पानीपत/करनाल, जेएनएन। यमुनानगर स्टेट हाइवे पर गांव समोरा के पास दर्दनाक हादसा हुआ। हेडलाइट साफ करने उतरा चालक दो ट्रकों के बीच फंस गया। वह चिल्लाता रहा, लेकिन उसकी जान नहीं बच सकी। आरोपित चालक अपना ट्रक लेकर फरार हो गया। हादसा अचानक ट्रक को बैक करने से हुआ। 

गांव लोहरीपुर, जिला शामली, उत्तरप्रदेश वासी समरयाब ने बताया कि वह और उसका भतीजा करीब 28 वर्षीय मुबारक अली एक ट्रक पर चालक के तौर पर नौकरी करते थे। वे दोनों ही ट्रक में बजरी लोड कर यमुनागर से करनाल की ओर आ रहे थे। गांव समोरा के पास रात करीब आठ बजे उन्होंने लश्कारा ढाबे पर खाना खाने के लिए ट्रक रोक लिया, जिसे सड़क किनारे खड़ा कर लिया। वहां पहले से भी एक ट्रक खड़ा था।

चिल्लाने के बाद ट्रक लेकर भागा चालक 

मुबारक अली ट्रक की हेड लाइट की सफाई करने लगा तो तभी आगे खड़े ट्रक चालक ने तेज गति से अपना ट्रक बैक कर दिया। इससे मुबारक अली दोनों ट्रकों के बीच फंस गया तो वह चिल्लाने लगा। वह भी ट्रक से उतरने लगा तो तब तक आगे वाला ट्रक चालक अपना ट्रक लेकर फरार हो गया। वह मुबारक अली को लेकर एक निजी गाड़ी से कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज लेकर गया, जहां गंभीर हालत के चलते उसे पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया गया। वह उसे पीजीआइ ले जाने लगा तो कुछ दूरी पर ही उसने दम तोड़ दिया। आरोपित ट्रक चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

Posted By: Anurag Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस