राज्य ब्यूरो, चंडीगढ़। बेरोजगार युवाओं को स्थानीय औद्योगिक कलस्टर की आवश्यकता के मुताबिक कौशल प्रशिक्षण देकर उन्हें घर के नजदीक रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा। इससे उनके दूरदराज के क्षेत्र में जाने पर होने वाले खर्च व समय की बचत हो सकेगी। उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने रोजगार विभाग के अधिकारियों को ऐसा सिस्टम तैयार करने के निर्देश दिए हैं।

रोजगार पोर्टल पर ग्रेडअप के माध्यम से सरकारी नौकरियों के लिए दी जा रही कोचिंग की जानकारी लेते हुए कहा कि रोजगार पोर्टल पर ऐसा डाटाबेस तैयार करें, जिससे सभी महकमों में खाली पदों व कांट्रेक्ट आधार पर कार्य करने वाले युवाओं की डिटेल्स एकत्रित हो सके। प्राइवेट उद्योगों की मांग के अनुसार युवाओं को आधुनिक तकनीकी कौशल दिया जाएगा, ताकि कौशलयुक्त होने पर उन्हीं उद्योगों में युवाओं की प्लेसमेंट करवाई जा सके।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि सभी रोजगार केंद्रों में नवीन तकनीक से युक्त बेहतरीन करियर काउंसलर नियुक्त किए जाने चाहिए ताकि वे पंजीकृत युवाओं का मार्गदर्शन कर सकें। ऐसी संभावनाएं तलाशी जाएं जिससे रोजगार पोर्टल पर पंजीकृत बेरोजगार को पोर्टल के माध्यम से ही पलंबर से लेकर हाउस मेड तक की पार्टटाइम नौकरी मिल सके।

वहीं, दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि हिसार में अंतरराष्ट्रीय स्तर का हवाई अड्डा का निर्माण करना पूरे राज्य के लोगों की महत्वाकांक्षी योजना है। इस ड्रीम प्रोजेक्ट को धरातल पर उतारने के लिए हरियाणा सरकार महाराजा अग्रसेन अंतरराष्ट्रीय हिसार हवाई अड्डे के निर्माण कार्यों के लिए 946 करोड़ रुपये की राशि खर्च करेगी। आवंटित धन राशि को दूसरे फेज में चल रहे हवाई अड्डे के निर्माण कार्यों को पूरा करने के लिए अलग-अलग मदों में खर्च किया जाएगा। इंटीग्रेटेड एविएशन हब के रूप में विकसित किए जा रहे हिसार हवाई अड्डे के निर्माण कार्यों के दूसरे चरण में रायपुर के समीप यात्री लाइन के अलावा कार्गो रेलवे लाइन का निर्माण भी शामिल है।

दुष्यंत ने कहा कि हिसार को एविएशन हब के रूप में विकसित करने का कार्य तेजी से चल रहा है। उन्होंने बताया कि रनवे, टैक्सीवे व एप्रन को बनाने के लिए लोक निर्माण विभाग द्वारा जारी किए गए 164 करोड़ रुपये के टेंडर का 15 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है और रनवे का खुदाई कार्य व इस पर मिट्टी डालने का काम 75 से 90 प्रतिशत तक पूरा हो चुका है।

Edited By: Kamlesh Bhatt