जासं, पंचकूला : सेक्टर-20 सनसिटी परिक्रमा में रहने वाले लोगों ने सोसायटी प्रबंधकों के खिलाफ शनिवार को जमकर नारेबाजी की। उन्होंने मेंटेनेंस चार्ज बढ़ाने के विरोध में धरना दिया। उनका आरोप है कि मेंटेनेंस चार्ज बढ़ाने के बावजूद उन्हें सुविधाएं नहीं मिल रही हैं।

प्रदर्शनकारियों ने आरोप लगाया कि सोसायटी प्रबंधकों की ओर से आरडब्ल्यूए को बिना जानकारी दिए ही मेंटेनेंस चार्ज में लगभग 26 से 28 प्रतिशत का इजाफा कर दिया गया है। इसके बारे में एक दिन पूर्व ही आपत्ति जताने के बावजूद प्रबंधकों की ओर से कोई जवाब नहीं दिया गया। इसी वजह से शनिवार सुबह सोसायटी के अंदर जमकर नारेबाजी की गई। जैसे ही नारेबाजी हुई, कंपनी के मार्केटिग कर्मचारी दफ्तर बंद कर मौके से चलते बने। उधर मौके पर मौजूद कर्मियों ने लोगों को समझाने की कोशिश की, लेकिन प्रदर्शनकारी अपनी मांग पर अड़े रहे। एक करोड़ में खरीदा फ्लैट, अब 11 हजार मासिक मेंटेनेंस जार्च अदाकर अपने ही फ्लैट में बन गए किराएदार

आरडब्ल्यूए सनसिटी परिक्रमा के प्रधान रंजीत कुमार, महासचिव गौतम धीर, अरविन केयर वेल्फेयर ट्रस्ट के प्रधान अतुल गर्ग, सलील चड्ढा और मुक्ता अग्रवाल ने प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व किया। उनका कहना था कि पहले जो लोग मासिक 8 हजार रुपये मेंटेनेंस दे रहे थे, अब वह बढ़कर 11 हजार रुपये हो गई है। एक करोड़ रुपये खर्च करके तो पहले फ्लैट खरीदा अब इतनी अधिक मेंटेनेंस चार्ज वसूले जाने के कारण वे अपने फ्लैट में ही किरायेदार बनकर रह गए हैं। नोटिस चस्पा करने पर भड़के लोग

उन्होंने बताया कि दो दिन पूर्व कंपनी की ओर से सोसायटी के ऑफिस के बाहर एक नोटिस चस्पा कर दिया गया कि मेंटेनेंस चार्ज अब करीब 28 प्रतिशत बढ़ाए जा रहे हैं। यह नोटिस पढ़कर लोग भड़क उठे। उन्होंने ऑफिस इंचार्ज रजनी भारी से मुलाकात की। लेकिन देर तक प्रबंधकों की ओर से कोई जबाव नहीं आया। इसके बाद लोगों ने सोसायटी के गेट नंबर 11 के पास एकत्रित हो गए और प्रबंधकों के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। प्रदर्शनकारियों ने मांगी मेंटेनेंस चार्ज की ऑडिट रिपोर्ट

रंजीत कुमार और अतुल गर्ग ने लोगों कहा कि सोसायटी के प्रबंधक शुरू से उनके साथ धक्का करते आ रहे हैं, लेकिन अब पानी सिर के ऊपर से निकल चुका है। आज तक इन्होंने एक भी मेंटेनेंस चार्जेस की ऑडिट रिपोर्ट नहीं दिखाई। लाखों रुपये इक्ट्ठा करते हैं, लेकिन कोई हिसाब किताब नहीं देते। सोसायटी में हैं 1113 फ्लैट्स

प्रदर्शनकारियों ने बताया कि सोसायटी में 1113 फ्लैट हैं। हेल्थ क्लब, जिम, स्टीम सोना, स्कॉच के चार्जेस पहले 6 महीने के लेते थे, लेकिन अब अचानक ही आदेश दे दिया गया है कि पूरे साल के चार्ज लिए जाएंगे, जोकि बिल्कुल ही नाजायज है। वहीं प्रबंध समिति की रजनी भारी ने माना कि मेंटेनेंस चार्ज बढ़ाए जा रहे है। नोटिस चस्पा हो चुका है। लोगों की शिकायत के बारे में प्रबंधकों को अवगत कराने की कोशिश की गई है, लेकिन संपर्क नहीं हो पाया है। मेरी कोशिश है कि लोगों की समस्या हल हो जाए।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप