नई दिल्ली/चंडीगढ़, जेएनएन। Haryana Congress: कांग्रेस को हरियाणा में बड़ा झटका लगा है। पार्टी के राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता अनिल धनतोड़ी ने पद और पार्टी की प्राथमिक सदस्‍यता दोनों से इस्‍तीफा दे दिया है। बताया जाता है कि वह पूर्व मुख्‍यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा से नाराज थे। उनके भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने के संकेत हैं।    

शाहबाद से विधायक रहे धनतोड़ी ने कहा कांग्रेस परिवारवाद और सिफारिशवाद से बाहर नहीं निकली

कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा और राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव की प्रक्रिया के दौरान पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता अनिल धनतोड़ी का इस्तीफा देने से हरियाणा में पार्टी को बड़ा नुकसान माना जा रहा है। धनतोड़ी कुरुक्षेत्र जिला के शाहबाद से 2009 में कांग्रेस के टिकट पर विधायक रहे थे।अनिल धनतोड़ी ने पार्टी में परिवारवाद और सिफारिशवाद का आरोप लगाया।

यह भी पढ़ें: Adampur By Election: हरियाणा के 'दुश्‍मन' रहे दो परिवारों का सियासी मिलन, लेकिन सवाल भरोसे का

अनुसूचित जाति के नेता धनतोड़ी का कहना है कि पार्टी हाईकमान ने यह जानते हुए भी हरियाणा कांग्रेस की कमान पूरी तरह पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा के हाथ में दे दी है कि वह इस तरह अकेले चलकर राज्य में पार्टी की सरकार नहीं बना सकते। सभी नेताओं को साथ लेकर चलने की बजाय हुड्डा कुछ चापलूसों से घिर गए हैं।

मोदी और मनोहर नेतृत्व को ही देश व प्रदेश के हित में बताते हुए भाजपा में जाने के दिए संकेत

धनतोड़ी हरियाणा युवक कांग्रेस के अध्‍यक्ष भी रहे हैंं। कांग्रेस के इस्‍तीफा देने के बाद धनतोड़ी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में ही देश प्रदेश में पर्याप्त विकास हो रहा है। धनतोड़ी के इस बयान के बाद यह माना जा रहा है कि वह कांग्रेस को छोड़कर शीघ्र भाजपा में शामिल होंगे। धनतोड़ी यदि भाजपा शामिल होते हैं तो इससे पार्टी को फायदा होने की उम्‍मीद है। इसके साथ ही कांग्रेस में भूपेंद्र सिंह हुड्डा पर कांग्रेस में उनका विरोधी खेमा निशाने पर ले सकता है। 

Edited By: Sunil kumar jha

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट