नई दिल्ली [बिजेंद्र बंसल]। राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के मुख्यमंत्रियों के शपथ लेने के साथ ही हरियाणा में भी सियासी समीकरण बदलने लगे हैं। तीनों राज्यों में कांग्रेस के मुख्यमंत्रियों के शपथ ग्रहण समारोह में दलबल के साथ गए पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने राजनीतिक गलियारों में भी संदेश दे दिए हैं कि अब उनके हौसले और बढ़ेंगे।

हुड्डा जयपुर पहुंच गए थे। उनके साथ पलवल के विधायक और पूर्व मंत्री करण सिंह दलाल, रोहतक के सांसद दीपेंद्र हुड्डा, गन्नौर के विधायक और पूर्व स्पीकर कुलदीप शर्मा भी थे। जयपुर में चारों नेताओं ने राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट सहित मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मिलकर उन्हें बधाई दी।

शपथग्रहण समारोह के बाद हुड्डा जयपुर से पूर्व सांसद एवं उद्योगपति नवीन जिंदल के 30 सीट वाले निजी विमान से सीधे भोपाल पहुंचे। इस दौरान हुड्डा के साथ दलाल और कुलदीप शर्मा के अलावा फिल्म अभिनेता राजबब्बर, पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू, पंजाब के विधायक सरदार राणा गुरजीत सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री आनंद शर्मा, राजीव शुक्ला भी मौजूद रहे। हुड्डा भोपाल के बाद शाम को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह में भी इसी विमान से पहुंचे।

हरियाणा में नहीं है महागठबंधन के कोई मायने

करण सिंह दलाल और कुलदीप शर्मा का कहना है कि राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की जीत के बाद हरियाणा में महागठबंधन के कयास लगाने भी बेमायने हैं, क्योंकि हरियाणा में तो इस समय केवल कांग्रेस ही जनता के मुद्दों को लेकर आगे बढ़ रही है। उसे किसी बैसाखी की जरूरत नहीं है।

हुड्डा को रास आता है जिंदल परिवार का साथ

पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा को राज्य में भाजपा सरकार बनने के बाद संभवत: पहली बार जिंदल परिवार के विमान में बैठने का मौका मिला है। इससे पहले 2005 में जब हुड्डा पहली बार मुख्यमंत्री बने थे तो उनकी ताजपोशी में जिंदल परिवार के उडऩखटौले और विमानों की अहम भूमिका थी।

पूर्व सांसद नवीन जिंदल के पिता ओपी जिंदल हुड्डा के पहले मंत्रिमंडल में बिजली मंत्री बने थे और तब मुख्यमंत्री की लड़ाई में जिंदल ने भजनलाल के खिलाफ हुड्डा का साथ दिया था। एक हादसे में ओपी जिंदल के निधन के बाद नवीन जिंदल और हुड्डा के बीच भी काफी सौहार्द रहा। नवीन जिंदल दो बार कुरुक्षेत्र से सांसद रहे।

उदयभान और ललित नागर ने भी कमलनाथ को दी बधाई

कांग्रेस के होडल से विधायक उदयभान और तिगांव से विधायक ललित नागर ने मध्यप्रदेश चुनाव के दौरान कांग्रेस प्रत्याशियों के लिए एक माह तक लगातार प्रचार किया। मध्यप्रदेश में कांग्रेस की जीत के बाद नागर और उदयभान ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ सेे मिलकर उन्हें बधाई दी।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस