जागरण संवाददाता, पंचकूला : सेक्टर-20 सनसिटी परिक्रमा में रहने वाले एक बिल्डर को वॉट्सएप कॉल करके फिरौती मांगी गई है। हालांकि जब बिल्डर को कॉल आइ तो वह मोहाली फेस सात में था, लेकिन उसने शिकायत सेक्टर-20 पंचकूला में दर्ज करवाई। जिसके बाद पुलिस ने जीरो एफआइआर काटकर मटौर पुलिस स्टेशन भेज दी है। बिल्डर देवदत्त वर्मा ने सेक्टर-20 पुलिस थाने में दी शिकायत में बताया कि उनका बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन का काम मोहाली में चल रहा था। मंगलवार की सुबह वह अपनी साइट पर जा रहे थे। जब वे मोहाली फेस सात के पास पहुंचे तो उन्हें कई वॉट्सएप कॉल आई। जिसके बाद उन्होंने कार को साइड लगाकर फोन पर बात की तो आरोपित ने उनका नाम लिया और बोला कि मेरी बात सुन मुझे पता है कि तूं कहां रहता है और तेरे पास कौन सी गाड़ी है और उसका नंबर क्या है। तूं 60 लाख रुपये का तुंरत इंतजाम कर ले और जहां मैं बताउंगा वहां लेकर आ, नहीं तो तुझे घर से उठा लूंगा। उसके बाद आरोपित ने उन्हें वॉट्सएप पर रुपयों की फिरौती मांगने वाले धमकी भरे वॉयस मैसेज भी भेजे। कॉल के बाद से घबराया हुआ है परिवार

फोन आने के बाद वह घबरा गए। जिसके बाद वह अपने घर पहुंचे और परिजनों को सारी बात बताई। उसके बाद सेक्टर-20 थाना में आरोपित के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई। कॉल आने के बाद देवव्रत वर्मा का परिवार घबराया हुआ है और आरोपित को तुरंत गिरफ्तार करने की मांग कर रहा है, क्योंकि पंजाब में जिस तरह गैंगस्टर सक्रिय हैं, उससे परिवार सहम गया है। सेक्टर-20 के एसआइ सुखविद्र सिंह ने बताया कि देर रात यह मामला उनके पास आया था। मामले की गंभीरता को देखते हुए तुरंत केस दर्ज कर लिया गया था और जीरो एफआइआर थाना मटौर में भेज दी गई है। बिल्डर देवदत्त वर्मा से आरोपित ने 60 लाख रुपये की मांग की है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021