राज्य ब्यूरो, नई दिल्ली। हरियाणा सरकार में सत्तारूढ़ भाजपा की सहयोगी जननायक जनता पार्टी को अब फरीदाबाद और गुरुगाम नगर निगम में गठबंधन की दरकार रहेगी। समझौता नहीं होने पर जजपा अकेले दम पर दोनों बड़े शहरों में चुनावी दमखम दिखाएगी।          

नगर निगम चुनाव को लेकर शुक्रवार देर रात दिल्ली फार्म हाउस पर उप मुख्यमंत्री और जजपा नेता दुष्यंत चौटाला ने प्रदेश अध्यक्ष निशान सिंह व पार्टी के वरिष्ठ नेता डाक्टर केसी बांगड के साथ दोनों जिलों के पदाधिकारियों की बैठक ली। बैठक में दुष्यंत ने साफ कर दिया है कि पहले समझौते का इंतजार किया जाएगा। समझौता नहीं होने की स्थिति में अकेले दम पर चुनाव लड़ेंगे। पार्टी संगठन इसकी तैयारी कर ले।

बता दें, राज्य में गत माह संपन्न हुए 46 शहरी स्थानीय निकाय चुनाव में भी पहले भाजपा और जजपा ने अलग ताल ठोकी थी। बाद में जब कांग्रेस ने सिंबल पर चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया तो भाजपा-जजपा ने गठबंधन में चुनाव लड़ा। ऐसे ही अब माना जा रहा है। यदि भाजपा ने सम्मानजनक समझौता नहीं किया तो फिर जजपा अकेले चुनाव लड़ेगी।

मानेसर के टल सकते हैं चुनाव

सत्तारूढ़ दल भाजपा ने जब से गुरुग्राम, फरीदाबाद और मानेसर नगर निगम चुनाव के लिए तीन वरिष्ठ नेताओं को प्रभारी नियुक्त किया है तब से यह माना जा रहा है कि इन तीनों निगम में शीघ्र चुनाव होंगे। हालांकि शुक्रवार देर रात दिल्ली में दुष्यंत चौटाला ने संकेत दिए हैं कि मानेसर नगर निगम में अभी चुनाव नहीं कराए जाएंगे क्योंकि वहां वार्डबंदी का काम पूरा नहीं हुआ है।

Edited By: Kamlesh Bhatt