जेएनएन, चंडीगढ़। मानदेय बढ़वाने के लिए संघर्षरत अतिथि अध्यापकों को बड़ा तोहफा मिला है। गेस्ट टीचर्स के मानदेय में 25 फीसद बढ़ोतरी की गई है, जिससे उन्हें हर महीने छह हजार रुपये तक का फायदा होगा। इतना ही नहीं, अब पहली जनवरी से साल में दो बार मानदेय बढ़ाया जाएगा, जिससे 14 हजार 771 गेस्ट टीचरों को फायदा होगा।

वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने बताया कि जूनियर बेसिक ट्रेंड (जेबीटी) और सीएंडवी (भाषा अध्यापक) गेस्ट टीचर को अब 26 हजार रुपये मानदेय मिलेगा। इससे पहले इन्हें हर महीने 21 हजार 715 रुपये मिल रहे थे। ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर (टीजीटी) को 30 हजार व पोस्ट ग्रेजुएट टीचर (पीजीटी) को 36 हजार रुपये मानदेय मिलेगा। अभी तक टीजीटी को 24 हजार व पीजीटी को 29 हजार 715 रुपये मानदेय मिलता था।

प्रदेश में गेस्ट टीचर्स के तौर पर 6252 जेबीटी, 5554 टीजीटी और 1925 पीजीटी कार्यरत हैं। पहले इनके वेतन पर सालाना खर्च 392 करोड़ था, जो अब बढ़कर करीब 479 करोड़ हो गया है। इससे पहले पिछली एक जनवरी को अतिथि अध्यापकों के मानदेय में 14.29 फीसद की बढोतरी की गई थी। शिक्षा विभाग पहले ही अतिथि अध्यापकों को आकस्मिक अवकाश की संख्या 15 से बढ़ाकर 20 कर चुका है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Kamlesh Bhatt