नई दिल्ली [बिजेंद्र बंसल]। जींद उपचुनाव के लिए मतदान होने के बाद प्रदेश कांग्रेस की कमान को लेकर लामबंदी शुरू हो गई है। पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा समर्थक 12 विधायकों ने प्रदेश कांग्रेस के नए प्रभारी गुलाम नबी आजाद से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा को प्रदेश में पार्टी का चेहरा बनाने की मांग उठाई।

इस मुलाकात का बहाना तो नए प्रभारी का स्वागत करना था, मगर जब प्रतिनिधिमंडल में खुद हुड्डा नहीं गए तो साफ हो गया कि विधायक उन्हें प्रदेश कांग्रेस का चेहरा बनवाने के लिए पहुंचे हैं। कांग्रेस मुख्यालय में करीब एक घंटे तक आजाद से मुलाकात के बाद ये विधायक 9 पंत मार्ग आकर हुड्डा से मिले। विधायकों में उतना उत्साह नहीं दिखा।

बताया जा रहा है कि आजाद का कहना था कि अब लोकसभा चुनाव सिर पर हैं, ऐसे में नया प्रयोग करना आसान नहीं है। बावजूद इसके उन्होंने सभी विधायकों से उनकी राजनीतिक वरिष्ठता की जानकारी लेते हुए आश्वस्त किया कि वे पार्टी आलाकमान के समक्ष उनकी बात रखेंगे। कांग्रेस विधायक और पूर्व स्पीकर डॉ. रघुबीर कादयान ने आजाद के समक्ष हुड्डा को राज्य कांग्रेस का चेहरा बनाने की चर्चा शुरू की। उन्होंने कहा कि यदि राज्य में कांग्रेस को मजबूती देनी है तो हुड्डा के हाथ में पार्टी की कमान देनी होगी।

जिला व ब्लॉक स्तर की हालत सुनकर चौक गए आजाद

प्रदेश प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने जब जींद उपचुनाव के बारे में पूछा तो पलवल के विधायक करण सिंह दलाल ने कहा कि वहां मुकाबला काफी कड़ा है। कुछ अन्य विधायकों ने जोड़ा कि पहले ही दिन से कांग्रेस विरोधी पार्टियों ने वहां मौजूदा विधायक रणदीप सुरजेवाला को चुनाव लड़ाने के निर्णय को राजनीतिक मुद्दा बना दिया। कांग्रेस के पास विपक्ष के इस सवाल का जवाब नहीं था।

हुड्डा समर्थक विधायकों ने यह भी साफ कर दिया कि वहां वे सभी चुनाव प्रचार करने अपनी मर्जी से गए थे। उन्हें न तो प्रदेश कांग्रेस और न ही पार्टी प्रत्याशी की तरफ से बुलाया गया। विधायकों ने बताया कि जिला और ब्लॉक स्तर पर पिछले पांच साल से कांग्रेस का प्रदेश में संगठन ही नहीं है, इसलिए वहां से भी कोई निमंत्रण नहीं मिला। यह सुनकर आजाद चौक गए। उन्होंने बार-बार पूछा कि एक प्रदेश में पांच साल से जिला व ब्लॉक स्तर का संगठन नहीं है तो फिर कांग्रेस वहां खड़ी कैसे है?

हुड्डा ने दिखा दी ताकत

पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने नए प्रभारी गुलाम नबी आजाद के समक्ष भी अपनी मजबूती दर्शा दी है। उनके समर्थक 12 विधायक डॉ. रघुबीर कादयान, आनंद सिंह डांगी, जयवीर बाल्मीकि, जगबीर सिंह, गीता भुक्कल, कुलदीप शर्मा, करण दलाल, शकुंतला खटिक, ललित नागर, उदयभान, जयतीर्थ दहिया, श्रीकृष्ण हुड्डा उपस्थित हुए।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Kamlesh Bhatt