मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

राजेश मलकानियां, पंचकूला : सेक्टर-20/21 से लेकर घग्गर पार के सेक्टर-24/26 तक नया पुल बनाया जाएगा। सेक्टर-20/21 और 24/26 को कनेक्ट करने के लिए रिग रोड पर 16 मीटर चौड़ा पुल बनाया जाएगा। इसका निर्माण कार्य 15 अगस्त से शुरु हो जाएगा और दो साल में यह निर्माण पूरा होगा। लगभग 50 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले इस रिग रोड से पंचकूला के लोगों को फायदा होगा। पंचकूला के लोगों को इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर जाना आसान हो जाएगा। इस रोड से सीधी अप्रोच मिलेगी। पंचकूला के सेक्टरों में घग्गर पार के सेक्टरों को सबसे ज्यादा फायदा होगा। घग्गर पार रहने वालों को पंचकूला शहर में आने के लिए लंबा चक्कर नहीं लगाना होगा। अभी घग्गर पार रहने वाले लोगों को घुमकर आना पड़ता है। कई महीनों बाद पंजाब और हरियाणा के बीच बनी सहमति दरअसल इंटरनेशनल एयरपोर्ट से पंचकूला को जोड़ने के मकसद से बनाई गई रिग रोड (पीआर-7) को पंचकूला सेक्टर-20/21 से जोड़ गया है। इसी रोड को अभी घग्गर पार के सेक्टरों को जोड़ा जाना है। कई महीनों से पंजाब और हरियाणा के बीच अटकी बात पर सहमति बन गई थी। पंजाब ने जीरकपुर एमसी की हाउस मीटिग में जमीन ट्रांसफर करने की मंजूरी दे दी थी। अब इस रोड की चौड़ाई को पहले के मुकाबले बढ़ाया जाएगा। यहां 45 मीटर के बजाय 60 मीटर चौड़ी सड़क के लिए जमीन को एक्वायर किया जाएगा। पंजाब की ओर से दी गई मंजूरी के बाद यहां बुर्जियां लगाने का काम शुरू कर दिया गया है। इसमें अभी फॉरेस्ट एरिया को नहीं छेड़ा जाएगा। यहां एक मोड़ को खत्म करने के लिए इस चौड़ाई को बढ़ाया जा रहा है। इसके बाद एचएसवीपी यहां काम शुरू करेगा। यहां पुल को बनाने से लेकर रोड को बनाने का काम हरियाणा के जिम्मे आया है। जल्द जमीन की एनओसी मिलने की उम्मीद सेक्टर-20/21 से लेकर घग्गर पार के सेक्टर-24/26 तक रिग रोड बनेगी। सेक्टर-20/21 और 24/26 को जोड़ने के लिए रिग रोड पर 16 मीटर चौड़ा पुल बनाया जाएगा। इस दौरान पुल के दोनों ओर फुटपाथ को बनाया जाएगा। इस पर करीब 52 करोड़ रुपए को खर्च किया जाएगा। एचएसवीपी की ओर से कई बार इस प्रोजेक्ट के लिए प्रिसिपल सेक्रेटरी को लेटर भेजे थे। इसके बाद जीरकपुर एमसी को जमीन ट्रांसफर करने के लिए हाउस मीटिग में एजेंडा रखने के लिए कहा गया था। जीरकपुर एमसी की हाउस मीटिग में 60 फीट मीटर चौड़ी सड़क के लिए जमीन देने का एजेंडा पास हो गया था। वन विभाग की जमीन को हैंडओवर किया जाना है। यह जमीन पंजाब की ओर से एचएसवीपी को दी जानी है। इसकी एनओसी लेने के लिए पंजाब ने अप्लाई कर दिया है। जल्द ही एनओसी मिलने की उम्मीद है। इसके बाद यहां पेड़ों को काटा जाएगा और प्रोजेक्ट पर आगे का काम शुरू होगा। अच्छी बात है यदि घग्गर नदी पर नया पुल बन जाएगा, परंतु इस सरकार द्वारा केवल प्रोजेक्टों के नींव पत्थर ही रखे जा रहे हैं। वास्तविकता में कोई काम नहीं हो रहा। घग्गर पार के लोग वर्षों से कई समस्याएं झेल रहे हैं। चुनावों के समय में नींव पत्थर रखकर केवल वोट लेने का ही काम होता है।

-राकेश सौंधी, कांग्रेसी नेता घग्गर नदी पर पुल बनाने के लिए सरकार की मंजूरी मिल चुकी है। जल्द निर्माण होगा और लोगों को राहत मिलेगी। इस रोड से सीधी अप्रोच मिलेगी। पंचकूला के सेक्टरों में घग्गर पार के सेक्टरों को सबसे ज्यादा फायदा होगा। घग्गर पार रहने वालों को पंचकूला शहर में आने के लिए लंबा चक्कर नहीं लगाना होगा।

वीके सूद, भाजपा नेता हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण द्वारा घग्गर नदी पर पुल का निर्माण किया जाएगा। इस पुल के निर्माण से घग्गर पार सेक्टरों के लोगों को बहुत लाभ होगा। प्रबल संभावना है कि इस पुल का निर्माण 15 अगस्त से शुरू हो जाएगा। पंचकूला के लोगों को दिल्ली, एयरपोर्ट एवं अन्य स्थानों पर जाने में आसानी होगी।

-एनके पायल, एक्सईएन, एचएसवीपी

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप