जागरण संवाददाता, पंचकूला : ईवीएम की पोलिंग बूथों पर बैटरी न निकालने और सील को लेकर गड़बड़ी का अंदेशा जताते हुए काग्रेस पार्टी और आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने सोमवार रात को गवर्नमेंट कॉलेज सेक्टर-1 परिसर में जमकर हंगामा किया। पूरे पंचकूला विधानसभा हलके की ईवीएम गवनर्मेट कॉलेज सेक्टर-1 में रखी गई हैं। ग्रामीण इलाकों से मशीन गवर्नमेंट कॉलेज में पहुंचाई जानी थी परंतु वीवीपैट की बैटरी नहीं निकली थी। पूर्व पार्षद सलीम खान ने बताया कि ग्रामीण इलाकों में मतदान केंद्रों पर कई सरकारी एजेंटों से वीवीपैट की बैटरी नहीं निकल रही थी। एजेंटों ने कहा कि वह गवर्नमेंट कॉलेज में जाकर बैटरी निकाल लेंगे। जिसके बाद काग्रेस के कार्यकर्ता भी कॉलेज में पहुंच गए। कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि वीवीपैट की बैटरी निकालने के बजाय कुछ की सील टूटी हुई थी। कम से कम हमें तो विश्वास में लेते

जैसे काग्रेस और आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं को पता लगा कि गवर्नमेंट कॉलेज सेक्टर-1 में ईवीएम को लेकर गड़बड़ी का अंदेशा जताया जा रहा है तो बड़ी संख्या में कार्यकर्ता कॉलेज के बाहर इकट्ठा हो गए। पुलिस ने कार्यकर्ताओं को अंदर नहीं जाने दिया जिसके बाद कार्यकर्ताओं ने हंगामा किया। कांग्रेस प्रत्याशी चंद्रमोहन ने बताया कि ग्रामीण इलाकों की वोटिंग मशीनों के एजेंटों ने कहा कि वह वीवीपैट की बैटरी निकालना भूल गए हैं, यदि एजेंट बैटरी निकालना भूल गए थे तो कम से कम उम्मीदवार या उसके अधिकृत एजेंट को बुलाया जाना चाहिए था। सरकारी एजेंट अलग-अलग स्थानों पर बैठकर बैटरियों को खोलने में जुटे हुए थे जबकि उन्हें एक स्थान पर बैठकर बैटरी खोलनी थी। डीसीपी भाजपा प्रत्याशी के साथ घूम रहे थे : चंद्रमोहन

चंद्रमोहन ने आरोप लगाया कि पंचकूला के पुलिस उपायुक्त दिन में भाजपा प्रत्याशी के साथ विभिन्न स्थानों पर घूम रहे थे। ग्रामीण इलाकों की 22 मशीनों की बैटरिया नहीं निकाली गई। पूरी कानूनी प्रक्रिया अपनाई जाएगी और पुलिस उपायुक्त पर कार्रवाई की माग करेंगे। मंगलवार को पूरी रणनीति तैयार की जाएगी। चंद्रमोहन ने कहा कि जिस तरह की हेराफेरी करने की कोशिश की गई है, इससे भाजपा को पता लग गया है कि वह हार रही है और काग्रेस पार्टी पंचकूला में बड़े अंतर से जीतने वाली है। बडे़ स्तर पर की गई हेराफेरी : शर्मा

आम आदमी पार्टी के पंचकूला से उम्मीदवार योगेश्वर शर्मा ने कहा कि बड़े स्तर पर हेराफेरी की गई है। सारी मशीनें खुली छोड़ी हुई थी। पहले भी इलेक्शन होते रहे हैं और सभी बूथों की मशीनें स्ट्राग रूम में रखी जाती हैं लेकिन आज सारी मशीनें खुले में पड़ी हुई थी। भाजपा सरकार और प्रशासन आपस में मिले हुए हैं और गवर्नमेंट कॉलेज की छोटी-छोटी दीवारों से ईवीएम बदले जाने का भी योगेश्वर शर्मा ने अंदेशा जताया। हंगामा करने वाले बौखलाए : गुप्ता

वहीं, सूचना मिलते ही पंचकूला के उपायुक्त मुकेश कुमार आहुजा, डीसीपी कमलदीप गोयल और चुनाव अधिकारी सहित अन्य मौके पर पहुंच गए। समाचार लिखने तक हंगामा जारी था। यहा बता दें कि जिस समय गवर्नमेंट कॉलेज सेक्टर-1 में हंगामा चल रहा था तो भारतीय जनता पार्टी का कोई भी कार्यकर्ता या भाजपा प्रत्याशी ज्ञानचंद गुप्ता मौके पर नहीं पहुंचे। जब इस संबंध में ज्ञान चंद गुप्ता से बातचीत की गई तो उन्होंने कहा कि मशीनों में गड़बड़ी किसी भी हालत में नहीं हो सकती। इसलिए जो लोग हंगामा कर रहे हैं, वह अपनी हार से बौखला चुके हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप