जेएनएन, चंडीगढ़। हरियाणा विधानसभा के मानसून सत्र में विपक्षी हमलों से निपटने की तैयारी में जुटी मनोहर सरकार अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की संघर्ष गाथा में जीत का मंत्र ढूंढेगी। मुख्यमंत्री मनोहर लाल आज शाम पीएम के जीवन संघर्ष पर बनी फिल्म 'चलो जीते हैं' के बहाने मंत्रियों, विधायकों व चेयरमैनों के साथ प्रदेश में भविष्य की राजनीति पर रणनीति बनाएंगे। सभी को फिल्म देखने का न्योता दिया गया है।

मोदी के संघर्ष पर बनी 35 मिनट की फिल्म 'चलो जीते हैं' के बहाने आज मनोहर बनाएंगे रणनीति

सीएम मनोहरलाल के जेहन में पिछले दिनों भाजपा की दो से तीन बड़ी बैठकें भी रहेंगी। सीएम खुद प्रदेश के कई जिलों में न केवल रैलियों के जरिये, बल्कि कार्यकर्ताओं से अलग से विचार विमर्श कर चुके हैं। जो भी फीडबैक आया है, उस पर भी फिल्म बनाने को चर्चा हो सकती है। जल्द ही भाजपा संगठन और राष्ट्रीय नेतृत्व की बैठक होने की पूरी संभावना बनी हुई है। इसके अलावा अगस्त में मंत्रिमंडल की कैबिनेट की बैठक भी होनी है, इसको लेकर भी वार्ता हो सकती है।

फिल्म चंडीगढ़ के आइटी पार्क में दिखाई जाएगी जिसमें 350 लोगों के बैठने की क्षमता है। चूंकि फिल्म पीएम मोदी पर बनी है इसलिए इसके खास मायने भी हैं। हरियाणा सरकार इस संदेश को कहीं न कहीं राष्ट्रीय नेतृत्व तक पहुंचाना चाहती है।

यह भी पढ़ें: यह गुरुजी एक साल से न नहाए न कपड़े बदले, छापामारी में हुए और भी कई चौंकाने वाले खुलासे

फिल्म में निर्देशक मंगेश हदावले ने प्रधानमंत्री मोदी के बचपन के संघर्ष को दिखाया है। फिल्म के केंद्र में मोदी के बचपन में चाय बेचने को रखा गया है। गुजरात के मेहसाणा जिले के वडनगर के रेलवे स्टेशन व चाय की दुकान के सेट को इस फिल्म के पोस्टर में प्रमुख स्थान दिया गया है। मोडासा कस्बे के 12 वर्षीय छात्र धैर्य दर्जी ने इसमें मोदी के बचपन का किरदार निभाया है।

यह भी पढ़ें: सैड स्टोरी बनते-बनते बचा प्‍यार का अफसाना, ऐसे लौटी जिंदगी में बहार

सीएम के मीडिया सलाहकार राजीव जैन ने बताया कि पीएम नरेंद्र मोदी के जीवन संघर्ष पर बनी फिल्म को आइटी पार्क में शाम छह बजे दिखाया जाएगा। इसके लिए बाकायदा सभी मंत्रियों, विधायकों व चेयरमैनों को न्योता दिया गया है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sunil Kumar Jha