जेएनएन, चंडीगढ़। हरियाणा विधानसभा में विपक्ष के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा पहले दिन ही सदन में पूरे फार्म में दिखे। मुख्यमंत्री मनोहर लाल के सामने वाली सीट पर बैठे हुड्डा ने जहां स्पीकर से सभी विधायकों को अपनी बात कहने के लिए पूरा समय देने का आग्रह किया, वहीं उन्होंने चुटकी भी ली। मुख्यमंत्री की सीट की ओर इशारा करते हुए हुड्डा ने कहा कि पहले मैं विपक्ष का नेता बनता हूं और उसके बाद मुख्यमंत्री बन जाता हूं।

हरियाणा की नई सरकार के गठन के बाद बुलाए गए विशेष सत्र में हुड्डा ने कहा कि विधानसभा में सभी को मान्यताओं और मर्यादा से पेश आना होगा। कोई किसी के लिए हलके शब्दों का इस्तेमाल न करे। कांग्रेस विधानसभा में मजबूत विपक्ष की भूमिका निभाएगी। कांग्र्रेस विधायक किसी भी मसले पर सिर्फ विरोध करने के लिए सरकार का विरोध नहीं करेंगे। सरकार को जनहित में अच्छे और ठोस फैसले लेने के लिए मजबूर किया जाएगा।

विधानसभा सत्र से पहले हुड्डा अपने कार्यालय में गए। विधानसभा सचिवालय की कैंटीन में हरियाणा कांग्रेस अध्यक्षा कु. सैलजा ने अपनी पार्टी के नवनिर्वाचित 31 विधायकों को लंच दिया। सभी विधायकों ने कैंटीन में बैठकर एक साथ लंच किया। इससे पहले कांग्रेस विधायक दल की औपचारिक बैठक हुई, जिसमें विधानसभा सत्र में सरकार को घेरने की रणनीति पर चर्चा की गई।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हुड्डा के विपक्ष का नेता बनने का स्वागत किया। तब तक हुड्डा के नाम का ऐलान नहीं हुआ था। स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता ने जब हुड्डा का नाम विपक्ष के नेता के रूप में लिया तो कांग्रेस विधायकों ने मेज थपथपाई।

हुड्डा, विज और कादियान की विधानसभा में छठी

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जब सदन में कई-कई बार चुनकर आए विधायकों का जिक्र किया तो हुड्डा ने कहा कि सदन में तीन विधायकों की छठी है। यानी तीन विधायक खुद हुड्डा, अनिल विज और डॉ. रघुबीर कादियान छठी बार एमएलए चुनकर आए हैैं। हुड्डा इस बात का जिक्र करते हुए अनिल विज का नाम लेना भूल गए, जिस पर विज ने उन्हें टोका। फिर हुड्डा ने कहा कि छठी वाले विधायकों में विज भी शामिल हैैं।

एक ही पार्टी और एक ही विधानसभा से कैप्टन अजय यादव लगातार छह बार विधायक

हरियाणा के पूर्व वित्त मंत्री कैप्टन अजय यादव ऐसे विधायक रहे हैं, जो लगातार छह बार एक ही पार्टी और एक ही विधानसभा क्षेत्र से विधायक चुने गए। 2014 तक कैप्टन अजय यादव रेवाड़ी से लगातार विधायक बनते आ रहे हैं। कैप्टन का रिकार्ड आज तक कोई विधायक नहीं तोड़ पाया है। बाकी तीन नेता भले ही छह बार विधायक बने, लेकिन लगातार छह बार का रिकार्ड कैप्टन अजय यादव के नाम है। इस बार उनके बेटे 32 वर्षीय चिरंजीव राव रेवाड़ी से विधायक चुने गए हैं।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस