राज्य ब्यूरो, चंडीगढ़। Land Registry in Haryana: हरियाणा के गांवों के लोगों के लिए बड़ी खुशखबरी है। अब वे लाल डोरा क्षेत्र के बाहर की जमीन की भी रजिस्‍ट्री करा सकेंगे। हरियाणा सरकार राज्‍य में अब लाल डोरे के बाहर की जमीन और मकानों की भी रजिस्ट्री शुरू करने की तैयारी में है। इसके लिए लाल डोरे के बाहर रह रहे लोगों के लिए जल्द ही योजना लांच की जाएगी। फिलहाल लाल डोरे के भीतर ग्रामीणों को मालिकाना हक देने के लिए भू-संपत्ति की रजिस्ट्रियों का काम तेजी से चल रहा है।

अनुसूचित जाति के लिए प्लाट, आवास योजना व मकान की मरम्मत की शिकायतों के लिए अलग प्रकोष्ठ

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बुधवार को अपने निवास पर भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा की प्रदेश कार्यसमिति के सदस्यों से सीधे संवाद में यह बात कही। उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति वर्ग के लिए प्लाट, आवास योजना और मकान मरम्मत योजना संबंधी शिकायतों के समाधान के लिए अलग से प्रकोष्ठ बनाया जाएगा।

उन्‍होंने कहा कि इसके साथ ही इन शिकायतों के लिए अलग से पोर्टल बनाया जाएगा और अधिकारी भी नियुक्त किया जाएगा। इस दौरान सहकारिता मंत्री डा. बनवारी लाल, भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री कृष्ण लाल पंवार, मुख्यमंत्री के राजनीतिक सचिव कृष्ण बेदी और ओएसडी भूपेश्वर दयाल उनके साथ थे।

 संत महापुरुष विचार सम्मान योजना के लिए 10 करोड़ रुपये का बजट, चौपालों में बनेंगी लाइब्रेरी

मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने कहा कि सरकारी नौकरियों में अनुसूचित जाति के बैकलाक को भरने के लिए सरकार गंभीर है। अनुसूचित जाति की चौपालों में लाइब्रेरी बनाने के लिए जल्द ही सर्वे कराकर योजना को सिरे चढ़ाया जाएगा। नौकरियों में आउटसोर्सिंग की व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए कौशल रोजगार निगम बनाया गया है।

उन्‍होंने कहा कि अब अनुबंध आधार पर जो भी नियुक्तियां होंगी, उनमें आरक्षण व्यवस्था को लागू किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने अनुसूचित जाति की बस्तियों में समस्याओं को जानने के लिए संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए। साथ ही कहा कि व्यवस्थाओं को दुरुस्त कराने के लिए जरूरत पड़ने पर मनरेगा के माध्यम से भी काम कराएं ताकि लोगों को सुविधा हो।

मेवात के लिए कम्युनिटी सेंटर स्कीम

मुख्यमंत्री ने कहा कि मेवात क्षेत्र में जरूरत के हिसाब से अनुसूचित जाति बस्तियों में कम्युनिटी सेंटर बनाए जाएंगे। इसके लिए अधिकारियों को सर्वे कराने के लिए कहा गया है। साथ ही कार्यकर्ताओं को नसीहत दी कि महापुरुषों की जयंती पर ब्लाक स्तर पर बड़े कार्यक्रमों का आयोजन करें।

संत महापुरुष विचार सम्मान योजना के लिए 10 करोड़ रुपये का बजट, चौपालों में बनेंगी लाइब्रेरी

उन्‍होंने कहा कि संत महापुरुष विचार सम्मान योजना के तहत प्रदेश सरकार ने 10 करोड़ रुपये का बजट रखा है। ब्लाक स्तर पर कार्यक्रम के लिए जिला उपायुक्त को एक महीने पहले बताना होगा ताकि व्यवस्थाओं के लिए समय से राशि मिल सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि अन्याय के खिलाफ खड़े होना जरूरी है। यदि कोई अधिकारी योजना के लाभ की एवज में रिश्वत मांगता है उसकी शिकायत करें। ऐसे अधिकारी के खिलाफ तत्काल कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

15 साल तक का कोई बच्चा नहीं होगा स्कूल से ड्रापआउट

मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने कहा कि परिवार पहचान पत्र का डाटा सत्यापित होने के बाद पांच से 15 साल तक का कोई भी बच्चा स्कूल से ड्रापआउट नहीं होगा। हर बच्चे को ट्रैक किया जाएगा ताकि वह शिक्षा के अधिकार से वंचित न रहे। उन्होंने कार्यकर्ताओं को गरीब परिवारों की सूची बनाकर देने के लिए कहा ताकि योजनाओं के क्रियान्वन के लिए उसका इस्तेमाल हो।

 

Edited By: Sunil Kumar Jha