राजकुमार, कालका

भूमाफिया पर नकेल कसने के लिए जिला नगर योजनाकार विभाग ने अवैध कालोनियों के मामले में सख्त रुख अपनाया है। अवैध रूप से जमीनों की प्लाटिग पर रोक लगाने व लोगों को फर्जीवाड़े से बचाने के लिए विभाग ने पिजौर, कालका, रायपुररानी, बरवाला व मोरनी क्षेत्र की 25 अवैध कालोनियों को चिह्नित किया है। विभाग द्वारा सार्वजनिक स्थानों पर इन अवैध कालोनियों की लिस्ट चस्पा की गई है। वहीं जिला प्रशासन ने डीटीपी के पत्रों पर कार्रवाई करते हुए फर्जीवाड़े से संबंधित जमीनों की रजिस्ट्री पर रोक लगा दी गई है और इसकी जानकारी महानिदेशक नगर तथा ग्राम आयोजना विभाग हरियाणा को भी भेजी गई है।

दैनिक जागरण ने 10 फरवरी और 12 फरवरी के अंक में यह मुद्दा उठाया था। आखिरकार इस पर संज्ञान लेते हुए विभाग ने लोगों को जागरूक करने की पहल की। डीटीपी लता हुड्डा ने बताया कि लोगों को मकान व प्लाट खरीदने से पहले जगह और कालोनी की जांच जरूर करनी चाहिए। शहर व आसपास के इलाके में भूमाफिया कृषि योग्य भूमि को खरीद कर उस पर सड़कों का जाल बिछाकर लोगों को फंसाने का प्रयास करते हैं।

विभाग की और से जमीन के खसरा नंबर भी जारी कर लोगों से अपील की गई है कि वे संबंधित जगहों पर कमान व प्लाट खरीद कर पैसा बर्बाद न करें। इसके अलावा विभाग ने कालोनियों में चेतावनी भरे बोर्ड भी लगाए हैं। अवैध कालोनियों में बिजली के कनेकशन देने पर भी लगाया अंकुश

जिला नगर योजनाकार विभाग की तरफ से बिजली विभाग को पत्र लिख कर सूचना दी गई है कि अवैध कालोनियों में बिजली के कनेकशन न दिए जाएं। विभाग को लिखा गया है कि अवैध कालोनियों में बिजली सप्लाई की लाइन मांगी जाती है तो डीटीपी विभाग से एनओसी जरूर लें। ऐसी कालोनियों में रहने वाले लोगों को किसी भी तरह की मूलभूत सुविधाएं नहीं दी जाएंगी। शहर व इसके आसपास कट रही 25 अवैध कालोनियों को खसरा नंबर के साथ चिह्नित किया गया है। गांव मालपुर में गिराए गए अवैध निर्माण

इस बीच शनिवार को गांव मालपुर में कराए गए अवैध निर्माण गिरा दिए गए। प्रशासनिक स्तर पर की गई इस कार्रवाई को लेकर क्षेत्र की सुषमा रावल, गुरमीत सिह, अजय शर्मा, राकेश सहित तमाम लोगों ने डीटीपी लता हुड्डा के प्रति आभार व्यक्त किया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस