जेएनएन, चंडीगढ़। कई नोटिसों के बावजूद स्कूलों में ज्वाइनिंग नहीं कर रहे 1021 JBT (जूनियर बेसिक टे्रंड) शिक्षकों की नियुक्तियां प्रदेश सरकार ने रद कर दी हैं। इसके साथ ही संयुक्त मेरिट लिस्ट के चलते पक्की नौकरी से बाहर हुए तदर्थ JBT शिक्षकों की नियमित भर्ती का रास्ता खुल गया है।

शिक्षा निदेशालय ने मौलिक शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वर्ष 2012 में भर्ती इन शिक्षकों के ज्वाइनिंग लेटर निरस्त कर दिए जाएं। मेवात कैडर के 468 और शेष राज्य के 553 JBT की नियुक्तियां रद होने से एक हजार से अधिक तदर्थ अध्यापकों को पक्की नौकरी दी जा सकेगी जो हाई कोर्ट के आदेश पर बनी संयुक्त मेरिट लिस्ट के चलते नौकरी से बाहर हो गए थे।

वहीं, हरियाणा अध्यापक पात्रता परीक्षा (HTET) पास JBT के 8072, TGT के 9316 व PGT के 5770 युवाओं के प्रमाणपत्र की वैधता पहली मार्च को खत्म हो जाएगी। वर्ष 2014 में HTET पास करने वाले युवाओं का दर्द है कि उन्हें भर्ती परीक्षा का मौका दिए बगैर ही उनके प्रमाणपत्र चार दिन बार रद्दी का टुकड़ा बन जाएंगे। वर्ष 2012 के बाद अभी तक रेगुलर JBT भर्ती का कोई विज्ञापन नहीं निकाला गया है।

इसी तरह TGT में भी सामाजिक अध्ययन, गणित, हिंदी आदि विषयों की भर्ती का भी पिछले 5-6 वर्षों में कोई विज्ञापन नहीं निकला। JBT HTET पास एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष राजेश पाल ने कहा कि सरकार रेगुलर भर्ती का विज्ञापन जारी करने के बजाय बैकडोर से भर्ती गेस्ट टीचर्स को पक्का करने की तैयारी में है। इसके विरोध में शिक्षा मंत्री के आवास पर प्रदर्शन किया जाएगा।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप