जासं, पलवल: नेता जी सुभाषचंद्र बोस की 125 वीं जयंती के अवसर पर आर्य युवक परिषद की ओर से आवास कालोनी सेक्टर-2 में यज्ञ व श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। इस अवसर पर आर्य युवक परिषद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष स्वामी श्रद्धानंद सरस्वती ने कहा कि नेता जी सुभाष चंद्र बोस भारतीय स्वाधीनता आंदोलन के अग्रणी व सबसे बड़े स्वतंत्रता सेनानी थे।

सार्वदेशिक आर्य युवक परिषद के उपाध्यक्ष ने बताया कि सुभाष चंद्र बोस एक ऐसा राष्ट्र बनाना चाहते थे, जो सांप्रदायिकता, अन्याय, असमानता से मुक्त हो और सत्य व समानता की ताकत पर आधारित हो। उन्होंने बताया कि इतिहास नायक सुभाष चंद्र बोस द्वारा दिखाए गए रास्ते पर ही चलकर हम देश को प्रगति व खुशहाली की तरफ ले जा सकते हैं। नेता जी ने स्वतंत्र भारत के नव निर्माण के लिए फारवर्ड ब्लाक नामक एक राजनीतिक पार्टी भी बनाई थी। नेता जी स्वाभिमानी व्यक्तित्व के धनी थे। इस मौके पर बिजेंद्र सिंह आर्य, रमेशकुमार आर्य,सुनील पोसवाल, महीपाल देशवाल, नरकेश शास्त्री,जगराम तंवर, युद्धवीर आर्य, सुदामा आर्य,प्रिस पाठक, सुरेंद्र कुमार चौहान, राहुल बैंसला, धर्मेन्द्र धर्मी, नरेन्द्र शास्त्री, संतराज आर्य , देवीलाल आर्य मौजूद रहे।

Edited By: Jagran