जागरण संवाददाता, पलवल: इनेलो के जिलाध्यक्ष अजीत बॉबी ने कहा कि विधानसभा में हरियाणा को कलंकित कहने सहित अलोकतांत्रिक व अमर्यादित भाषा बोलकर पलवल के कांग्रेस विधायक करण ¨सह दलाल ने समूचे पलवल जिले का अपमान किया है। ताऊ देवीलाल के प्रति अपशब्दों का प्रयोग कर उन्होंने समस्त कमेरे वर्ग को भी अपमानित करने का प्रयास किया है। इसके लिए उन्होंने दलाल से सार्वजनिक रुप से माफी मांगने को कहा तथा यह भी कहा कि वे आगे से अपनी जुबान संभाल कर बात करें, नहीं तो इनेलो के कार्यकर्ता उन्हें उन्ही की भाषा में जवाब देंगे।

बॉबी लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह में पत्रकार वार्ता को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि विधानसभा जो कि लोकत्रंत का मंदिर कहा जाता है में अपशब्दों का प्रयोग कर दलाल ने सारी लोकतांत्रिक मर्यादाओं का हनन किया है। हालांकि उन्होंने अभय ¨सह चौटाला के व्यवहार को सही बताते हुए कहा कि जब किसी के पूर्वजों के बारे में अपशब्द कहे जाएंगे तो किसी को भी गुस्सा आना लाजिमी है। इस मौके पर उनके साथ इनेलो के प्रदेश सचिव महेंद्र चौहान, पार्टी नेता बिजेंद्र चांदहट, गयालाल चांट, रामपाल लीखी, गिर्राज डागर, महेंद्र भड़ाना, महावीर चौहान, महावीर डागर, जवाहर ¨सह डागर, वीरेंद्र शर्मा, अशोक शर्मा, सुरेंद्र सौरोत, लता भारद्वाज, अनिता भारद्वाज, तुहीराम भारद्वाज, कंवर रमेश कुमार, जेपी पाठक, विजयपाल महाशय, रमेश चांट, बच्चू ¨सह तेवतिया मुख्य रुप से मौजूद थे। बॉक्स : दिखी अनुशासनहीनता, विधायक व पूर्व विधायक रहे नदारद

इनेलो की प्रैस वार्ता में जमकर अनुशासन का प्रदर्शन हुआ। इनेलो के कई बड़े-छोटे नेता बीच-बीच में अपनी बात रखते नजर आए तथा कई बार तो जिलाध्यक्ष को भी बोलने का मौका नहीं मिल पाया। इनेलो नेताओं द्वारा अति महत्वपूर्ण कह कर बुलाई गई प्रैस वार्ता से इनेलो के विधायक केहर ¨सह रावत व पूर्व विधायक जगदीश नायर तथा सुभाष चौधरी नदारद रहे। पूछने पर इनेलो नेताओं ने बताया कि तीनों नेता चंडीगढ़ में प्रदर्शन में हिस्सा लेने गए हैं, लेकिन प्रैस वार्ता खत्म होने के बाद पूर्व विधायक सुभाष चौधरी पहुंच गए।

Posted By: Jagran