Move to Jagran APP

Palwal Murder: जमीनी विवाद में फौजी ने की सगे चाचा की कुल्हाड़ी मारकर हत्या, एक आरोपी गिरफ्तार

शिकायतकर्ता के अनुसार उनके ताऊ विक्रम का परिवार उनसे खेत की जमीन को लेकर रंजिश रखता था। विक्रम का पुत्र मोहन फौज में नौकरी करता है। जब भी मोहन छुट्टी पर आता था जमीन को लेकर वह उनसे झगड़ा करता है। रविवार को भी मोहन ने उनके साथ जमीनी विवाद की रंजिश रखते हुए गाली गलौज शुरू की और कुल्हाड़ी से हमला बोल दिया।

By Jagran NewsEdited By: Shyamji Tiwari Fri, 05 Apr 2024 06:12 PM (IST)
जमीनी विवाद में फौजी ने की सगे चाचा की कुल्हाड़ी मारकर हत्या

जागरण संवाददाता, पलवल। गदपुरी थाना अंतर्गत गांव धतीर में जमीनी विवाद को लेकर फौजी ने अपने चाचा की कुल्हाड़ी मारकर हत्या कर दी। आरोपित युवक का साथ उसके भाई, पत्नि और माँ ने भी दिया। मृतक के स्वजन पर भी आरोपितों ने हमला किया। गदपुरी थाना पुलिस ने मामले में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने मामले में एक युवक को भी गिरफ्तार कर लिया है।

गदपुरी थाना प्रभारी राजवीर सिंह के अनुसार, मामले में गांव धतीर के रहने वाले लक्ष्मण ने शिकायत दी है कि वह आईटीआई का छात्र है। उनका अपने ताऊ विक्रम के परिवार से खेत की जमीन को लेकर विवाद चल रहा था। बीते 31 मार्च को सुबह अपने घर पर मौजूद था। उसी दौरान उनके साथ उसके ताऊ विक्रम के लड़के मोहन और पुनीत रास्ते में खड़े होकर गाली गलौज करने लगे।

गाली देने से मना करने पर मारी कुल्हाड़ी

पुनीत ने हाथ में लाठी और मोहन के हाथ में कुल्हाड़ी थी। उनके पिता धर्मदेव ने दोनों को गाली देने से मना किया और कहा कि बेटे अपने घर जाओ। इतना कहते ही मोहन ने अपने हाथ में ली हुई कुल्हाड़ी उसके पिता के सिर में दे मारी। वह अपने पिता को बचाते तो पुनीत ने उसके और उसके छोटे भाई धीरज पर डंडे से हमला कर दिया। मोहन की पत्नी शोभा भी मौके पर आ गई।

शोभा ने भी हाथ में हुए धारदार हथियार से उसके भाई धीरज को पैर पर हमला कर दिया। मोहन की मां किशन वती ने भी उनपर ईंट से हमला किया। मौके पर ग्रामीणों की भीड़ एकत्रित हो गई तो आरोपित जान से मारने की धमकी देकर मौके से फरार हो गए। इसके बाद सभी घायलों को उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया। उनके पिता की गंभीर हालत को देखते हुए उन्हें हायर सेंटर के लिए रेफर कर दिया गया।

4 दिन के बाद अस्पताल में तोड़ा दम

वह अपने पिता को उपचार के लिए फरीदाबाद के निजी अस्पताल ले गए। चार दिन तक चले उपचार के बाद उनके पिता ने दम तोड़ दिया। इसके बाद फरीदाबाद के बीके अस्पताल में उनके पिता का पोस्टमार्टम कराया गया है। शिकायतकर्ता के अनुसार, उनके ताऊ विक्रम का परिवार उनसे खेत की जमीन को लेकर रंजिश रखता था। विक्रम का पुत्र मोहन फौज में नौकरी करता है।

जब भी मोहन छुट्टी पर आता था, जमीन को लेकर वह उनसे झगड़ा करता है। रविवार को भी मोहन ने उनके साथ जमीनी विवाद की रंजिश रखते हुए गाली गलौज शुरू की और कुल्हाड़ी से हमला बोल दिया। थाना प्रभारी के अनुसार मामले में जांच टीम ने त्वरित कार्रवाई करते हुए वारदात में शामिल आरोपित पुनीत को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की। आरोपित पुनीत को एक दिन का पुलिस रिमांड लिया गया।