जागरण संवाददाता, पलवल : फरीदाबाद की एक किशोरी ने समुदाय विशेष के एक युवक पर लव जिहाद में फंसाकर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है। आरोप है कि पीड़िता शनिवार की शाम को पलवल के महिला थाने में शिकायत देने गई, लेकिन पुलिस ने कार्रवाई करने के बजाय किशोरी पर मामले में समझौते का दवाब बनाया। इससे गुस्साए संगठनों ने रविवार को महिला थाने का घेराव कर प्रदर्शन किया व पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की। वहीं महिला थाना प्रभारी रेखा का कहना है कि यह मामला पहले फरीदाबाद में दर्ज हुआ था और आगे की कार्रवाई भी वहीं होना चाहिए। रविवार को महिला थाने के बाहर मौजूद फरीदाबाद निवासी पीड़िता ने बताया कि करीब छह माह पूर्व पड़ोस में रहने वाली उसकी सहेली ने उसे एक युवक का फोन नंबर दिया और बात करने के लिए कहा। पीड़िता ने जब उक्त युवक से बात की तो उसने खुद को राहुल बताया तथा दोनों में बात होने लगी। इसी दौरान आरोपित राहुल ने उसे प्रेमजाल में फंसा लिया और शादी करने बात कही। पीड़िता के अनुसार आरोपित उसे बहला-फुसलाकर अपने साथ ले गया। एक महीने तक भुपानी थाना क्षेत्र के गांव में रखा। बीच में हथीन लेकर आया व उसके साथ लगातार दुष्कर्म करता रहा। इस दौरान उसके परिजनों फरीदाबाद में संबंधित थाने में शिकायत भी दी।

पीड़िता के अनुसार उसे बाद में पता चला कि आरोपित राहुल नहीं है बल्कि हथीन निवासी शाजिद है। आरोपित की सच्चाई पता चलने पर उसने पलवल महिला थाना पुलिस को शिकायत दी।

रविवार को पीड़िता ने राष्ट्रीय बजंरग दल के प्रदेशाध्यक्ष मुनीष भारद्वाज से संपर्क किया व कार्रवाई कराने के लिए अपील की, जिस पर संगठनों के प्रतिनिधि महिला थाने में पहुंचे। मुनीष भारद्वाज का आरोप है कि जब वह पीड़िता व उसके परिजनों के साथ महिला थाने पहुंचे तो पुलिसकर्मी राजकुमार ने उनके साथ अभद्र व्यवहार किया और अंदर जाने से रोक दिया। इस पर लोग उग्र हो गए तथा थाने का घेराव कर नारेबाजी शुरू कर दी। मुनीष भारद्वाज ने अभद्र व्यवहार करने वाले पुलिसकर्मी को सस्पेंड करने व आरोपित के खिलाफ मामला दर्ज कर गिरफ्तार करने की मांग की है। घटना फरीदाबाद की है और वहां करीब चार माह पूर्व दुष्कर्म का मामला दर्ज हुआ था, जिसे पुलिस ने बाद में कैंसिल कर दिया। पीड़िता को वहीं शिकायत करनी चाहिए व पहले से ही दर्ज मामले की दोबारा जांच करानी चाहिए। मामले को लेकर उच्चाधिकारियों को अवगत कराया जा रहा है, जैसे निर्देश मिलेंगे वैसे ही कार्रवाई की जाएगी।

- रेखा, महिला थाना प्रभारी

Edited By: Jagran