जागरण संवाददाता, नूंह :

जिले में गोकशी का मामला थम नहीं रहा है। आए दिन कहीं न कहीं इस प्रकार के मामले सामने आ रहे हैं। कभी गोमांस बरामद हो रहा है तो कभी गाय की खाल तो कभी गोधन। इलाके के कुछ लोग अपनी इस आदत से बाज नहीं आ रहे हैं। जुलाई में इस प्रकार के दर्जनों मामले सामने आ चुके हैं। गोमांस को गांवों में सप्लाई किया जा रहा है तो गोधन को राजस्थान ले जाया जा रहा है। धंधे में लिप्त लोगों के कार्य से इलाका दिनों दिन बदनाम होता जा रहा है। रविवार को एक बार फिर पुलिस ने गोतस्करों के चंगुल से गोधन को छुड़ाया। गोतस्कर गोधन को राजस्थान के चुहड़पुर ले जा रहे थे। पुलिस ने मौके पर पहुंच गोधन अपने कब्जे में ले लिया।

ट्रक में था गोधन :

नूंह के मेवली गांव से सीएस स्टाफ ने एलपी ट्रक (पीबी-46एम-9680) से सात गाय व आठ बैल बरामद किए। पुलिस को देखते ही गोतस्कर गाड़ी छोड़ फरार हो गए। पुलिस ने गोधन नूंह गोशाला में भेजवा दिया तो गाड़ी कब्जे में ले ली। इस धंधे में लिप्त अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस आरोपियों का पता लगाने में जुट गई है।

पुन्हाना से गोधन बरामद :

बिछौर पुलिस ने रविवार रात ¨सगार-खाईका मार्ग पर एक टाटा 407 गाड़ी से दस गाय बरामद की। गोतस्कर पुलिस को देख भागने में कामयाब रहे। पुलिस ने गोधन को बहीन गोशाला में भेज दिया है। फिलहाल आरोपियों का पता नहीं लग पाया है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

लोगों में रोष :

गोकशी को लेकर लोगों में भारी रोष है। सरकार द्वारा इस ओर कड़े कानून बनाए जाने के बावजूद रोक नहीं लग रही है। लगातार एक के बाद एक मामले सामने आ रहे हैं। कुछ लोग इलाके को बदनाम करने पर तुले हैं। ऐसे में लोगों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

----------------

गोकशी पर लगाम लगाने के लिए पुलिस पूरी कोशिश कर रही है। गोतस्करों से गोधन को बचाया जा रहा है। इस धंधे में लिप्त लोगों का भी पता लगाया जा रहा है। ऐसे लोगों को कतई बख्शा नहीं जाएगा। जो लोग ऐसा कर रहे हैं उनके बारे में पुलिस को सूचना दे। पुलिस तुरंत कार्रवाई करेगी।

नाजनीन भसीन, एसपी नूंह।

Edited By: Jagran