जागरण संवाददाता, नारनौल :

बर्खास्त शारीरिक शिक्षकों का क्रमिक अनशन शुक्रवार 103वें दिन भी जारी रहा। संघर्ष समिति के जिला प्रधान आशीष यादव ने बताया कि आज शर्मिला देवी, बृजेश देवी, धर्मपाल शर्मा और पूर्ण चंद नारनौलिया को अनशन पर बैठाया गया। आज चौधरी देवी लाल की जयंती के अवसर पर दादरी में आमजन को संबोधित करने आ रहे उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला का घेराव करने के लिए दादरी गए। इस मौके पर चतुर्थ श्रेणी पार्ट टाइम कर्मचारी संघ के जिला प्रधान सुरेश कुमार ने सभी पदाधिकारियों के साथ धरने पर आकर पीटीआइ अध्यापकों के आंदोलन का समर्थन किया। उन्होंने कहा कि बजाए नए रोजगार उत्पन्न करने के 10-10 साल से पूरी निष्ठा के साथ सेवा दे रहे पीटीआइ अध्यापकों को सेवा से निष्कासित करने का घटिया काम इस सरकार ने किया है। संघर्ष समिति के जिला प्रधान आशीष यादव ने दूरभाष के माध्यम से आरोप लगाया कि दादरी में पुलिस प्रशासन द्वारा पीटीआइ अध्यापकों के ऊपर लाठीचार्ज और आंसू गैस के एक्सपायर हुए गोले दागे गए जिसकी पीटीआइ अध्यापकों का समर्थन करने आए तमाम संगठनों ने कड़े शब्दों में निदा की। सर्व कर्मचारी संघ के जिला प्रधान कौशल कुमार ने आरोप लगाया कि निहत्थे और निर्दोष पीटीआइ अध्यापकों पर प्रशासन द्वारा लाठी और एक्सपायर हुए आंसू गैस के गोले दागना बहुत ही निदनीय है। उन्होंने कहा कि सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा इस घटना की घोर निदा करता है और मांग करता है कि इस पूरे प्रकरण की निष्पक्ष जांच करवाई जाए। इस मौके पर जिले के तमाम पीटीआइ अध्यापक मौजूद रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस