जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए प्रशासन ने जिले में दो आइसोलेशन सेंटर बनाए हैं। शनिवार को हिरमी और श्रीकृष्णा राजकीय आयुर्वेदिक कालेज में बनाए गए कोविड केयर सेंटर का उपायुक्त मुकुल कुमार ने जायजा लिया। उन्होंने केंद्र में कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए सभी आवश्यक प्रबंध सुनिश्चित रखने के निर्देश दिए हैं।

उपायुक्त मुकुल कुमार ने कहा कि जिले में कई जगहों पर आइसोलेशन सेंटर बनाए गए हैं, जहां पर आक्सीजन मीटर, स्टीम मशीन, थर्मामीटर व आवश्यक दवाओं की व्यवस्था भी की गई है ताकि कोरोना ग्रसित मरीजों को इन सुविधाओं का लाभ मिल सके। इसके साथ-साथ हल्के व मध्यम लक्षण वाले मरीजों को होम आइसोलेशन किट व गंभीर लक्षण वाले मरीजों को तुरंत चिकित्सा सुविधा भी उपलब्ध करवाने का काम किया जा रहा है।

हर घर की गहनता से जांच

उपायुक्त ने कहा कि कोरोना जांच के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में हर घर स्क्रीनिग व गहनता से जांच की जा रही है। आमजन को कोविड वैक्सीनेशन की प्रथम, द्वितीय व प्रिकाश्नरी डोज दी जा रही है। तीसरी लहर को और अधिक फैलने से रोकना सब की जिम्मेदारी है। कोविड-19 के ²ष्टिगत ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग व गठित टीमों द्वारा लोगों के स्वास्थ्य की जांच की जा रही है। जिन व्यक्तियों में कोरोना के लक्षण ज्यादा हैं, उन्हें नजदीकी कोविड केयर सेंटर में इलाज के लिए दाखिल करवाया जा रहा है।

होम आइसोलेशन में बरतें सावधानी

उन्होंने कहा कि होम आइसोलेशन के दौरान हमें और सतर्क रहते हुए सावधानियां बरतनी हैं। जिसके तहत परिवार के सदस्यों से दूरी बनाए रखें व मास्क का उपयोग करें, हाथों को साबुन व पानी से धोएं और सैनिटाइजर का प्रयोग करें। अपने शारीरिक तापमान व आक्सीजन लेवल पर निगरानी रखें। अपने चिकित्सक से निरंतर संपर्क बनाए रखें और दवाओं को नियमित रूप से लेते रहें। सांस लेने में दिक्कत हो, पांच दिन से ज्यादा तेज बुखार हो, अत्याधिक खांसी हो तो चिकित्सक से तुरंत संपर्क करें।

Edited By: Jagran