संवाद सहयोगी, बाबैन : विधानसभा चुनावों में जहां प्रत्येक जाति समाज के लोगों ने अपने-अपने चहेते उम्मीदवारों के हक में वोट की वहीं बूथ नंबर 53 पर बागड़ी समाज के वोटर भी मतदान करने के लिए पहुंचे।

बाबैन की पिपली रोड स्थित एकता कॉलोनी में पिछले कई सालों से बागड़ी समुदाय के कई परिवार झोपड़ियों में ही रह रहे हैं। इन्हीं परिवारों में से एक अजमेर सिंह बागड़ी के परिवार ने अपनी वोट व आधार कार्ड बाबैन के बने हुए हैं। अजमेर सिंह उसकी पत्नी अंग्रेजो देवी व पुत्र बलविद्र सिंह ने बताया कि उनकी वोट पिछले साल ही बाबैन में बनी थी और उन्होंने लोकसभा के चुनावों में भी अपने मत का प्रयोग किया था। उसने कहा कि वह और उसका परिवार बाबैन व आसपास के इलाकों में दिहाड़ी मजदूरी का काम करते हैं और लोहे के बर्तन व औजार बनाकर उन्हें बेचकर अपना गुजारा करते हैं। अजमेर सिंह व अंग्रेजो देवी ने कहा कि बागड़ी समुदाय भी देश का हिस्सा है लेकिन कोई भी सरकार समाज की ओर ध्यान नहीं दे रही।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस