संवाद सहयोगी, शाहाबाद : सामुदायिक चिकित्सा केंद्र परिसर में 100 बैड का तैयार भवन एक साल से बनकर तैयार है। इस भवन के निर्माण पर सरकार ने 10 करोड़ 17 लाख रुपए खर्च किए हैं। शाहाबाद की जनता इसके उद्घाटन की बाट जोह रहा है। कई बार शुगरफेड चेयरमैन एवं विधायक रामकरण काला और मुख्यमंत्री के राजनीतिक सचिव कृष्ण बेदी के जल्द उद्घाटन के दावों के बावजूद यह शुरू नहीं हो पाया है। इस नए भवन के शुरू न होने पर अस्पताल पहुंचने वालों मरीजों और उनके तीमारदारों को अस्पताल के पुराने भवन में ही समस्याओं को झेलना पड़ रहा है।

गौरतलब है कि 13 सितंबर 2020 को हेल्पर्स के प्रधान तिलकराज अग्रवाल के नेतृत्व में लोगों का एक प्रतिनिधिमंडल मुख्यमंत्री के राजनीतिक सचिव कृष्ण बेदी से मिला था और अस्पताल के नए भवन के उद्घाटन की मांग की थी। इस पर उन्होंने जल्द उद्घाटन का आश्वासन दिया था। उन्होंने एक बार नवंबर में इसके उद्घाटन का दावा भी किया था। लेकिन अभी तक इस नए भवन का उद्घाटन नहीं हो पाया है।

लिफ्ट की सुविधा

लोक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता अरुण भाटिया ने बताया कि नया भवन सेंट्रल एसी है। इसमें लिफ्ट तथा मेडिकल आक्सीजन के लिए पाइपलाइन की सुविधाएं हैं। इसे बनाने में लगभग दो वर्ष का समय लगा। उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम के एसडीओ मनोज ग्रेवाल ने बताया कि इस भवन के बिजली कनेक्शन को लेकर प्रक्रिया जारी है।

अगले दो माह में उद्घाटन का आश्वासन

शुगरफेड हरियाणा के चेयरमैन एवं शाहाबाद विधायक रामकरण काला ने कहा कि यह उनकी प्राथमिकताओं में है और उन्हें विश्वास है कि आगामी दो मास तक यह जनता को समर्पित कर दिया जाएगा। यह उनकी प्राथमिकताओं में है और उन्हें विश्वास है कि आगामी दो मास तक यह जनता को समर्पित कर दिया जाएगा।

Edited By: Jagran