जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : डीसी डॉ. एसएस फुलिया ने कहा कि दीपावली के पावन पर्व पर सभी पर्यावरण संरक्षण का प्रण लें। दीपावली पर्व पर आतिशबाजी चलाकर पर्यावरण में जहर घोलने का काम न करें। खुशियों के त्योहार पर परिवार को एक-साथ विधिवत पूजन कर आस पड़ोस में बधाई दें। इस दीपावली पर पर्यावरण संरक्षण के लिए सामाजिक संगठनों के साथ-साथ आम आदमी को भी युवाओं को जागरूक करना होगा। पटाखों से आर्थिक नुकसान करने के बजाय जरूरतमंद की सेवा करनी होगी। बच्चों को संस्कृति का पाठ पढ़ाएं। पर्यावरण को बचाने के लिए पटाखे न चला कर ईको फ्रेंडली दीवाली मनाएं। सभी को सकारात्मक सोच रखनी चाहिए। अपने तन-मन को स्वस्थ रखते हुए लिगभेद, भाषा भेद, जाति भेद, धर्मभेद, गरीबी व अमीरी के भेद को मिटाएं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप