संवाद सहयोगी, लाडवा : रोटरी क्लब लाडवा की ओर से शनिवार को संत निश्चल सिंह स्कूल में विश्व एड्स दिवस मनाया गया। जिसमें एड्स जागरूकता के लिए एड्स के प्रति जागरूकता का प्रतीक मानव रेड रिबन भी स्कूल के बच्चों द्वारा बनाया गया। रेड रीबन में स्कूल के पांच से 12वीं कक्षा तक के 1300 बच्चों ने भाग लिया। रेड रिबन बनाने से पहले एड्स विषय पर एक संगोष्ठी का आयोजन भी किया गया, जिसमें बच्चों को एड्स होने के कारणों व बचाव करने के उपायों के बारे में बताया गया। रोटरी प्रधान अमित सिघल ने बच्चों को विश्व एड्स दिवस बारे बताते हुए कहा कि एड्स दिवस 1988 के बाद से एक दिसंबर को हर साल मनाया जाता है, जिसका उद्देश्य एचआइवी संक्रमण के प्रसार की वजह से एड्स के प्रति जागरूकता बढ़ाना है। रेड रीबन एचआइवी पॉजिटिव लोगों के साथ एकजुटता और एड्स के साथ जी रहे लोगों के लिए वैश्विक प्रतीक है। स्कूल की प्रधानाचार्या अमरजीत कौर संधू ने क्लब के सदस्यों का आभार प्रकट करते हुए कहा कि वर्तमान युग में इस तरह के जागरूकता कार्यक्रम अत्यंत आवश्यक हैं, ताकि कोई भी रोग होने से पहले उसका बचाव किया जा सके। इस अवसर पर रोटरी प्रधान अमित सिघल, राकेश खुराना, शिव गुप्ता उपस्थिति थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस