जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में इंडियन नेशनल स्टूडेंट्स आर्गेनाइजेशन के कैंपस अध्यक्ष दीपेंद्र बराड़ व कार्यकर्ताओं के नेतृत्व में होटल मैनेजमेंट के विद्यार्थियों ने विश्वविद्यालय फाइनेंशियल ऑफिसर के समक्ष अपनी समस्या रखी। बराड़ ने बताया कि टूरिच्म व होटल मैनेजमेंट विभाग के अनुसूचित जाति के विद्याíथयों से एडमिशन के समय पर फीस में छूट दी गई थी, लेकिन अब रोल नंबर जारी करने से पहले उनके सामने एक शर्त रखी जा रही थी कि उनको रोल नंबर तभी जारी किया जाएगा, जब वो अपनी पूरी फीस, जो कि 62000 रुपये है, नहीं भर देते। बीएचएम थर्ड सेमेस्टर के विद्यार्थी सरवजीत ने बताया कि हमारे सेमेस्टर के विद्याíथयों को तो करीब एक लाख 25 हजार रुपये फीस भरने को कहा जा रहा था। इसी कोर्स के प्रथम सेमेस्टर के विद्यार्थी अमृत ने कहा कि बाकी विभागों के जो अनुसूचित जाति के विद्यार्थी हैं, उनसे भी एडमिशन के समय कम फीस ली गई थी व अब उनसे सिर्फ एक अन्डरटेकिग ले कर उनको रोल नंबर जारी किया जा रहा है।

छात्र नेता ने इस कोर्स की 21 नवंबर से परीक्षाएं शुरू हो रही हैं, ऐसे में अब इतनी फीस भर पाना मुमकिन ही नहीं था । जब बाकी विभागों के विद्यार्थियों को बिना फीस भरवाए रोल नंबर जारी किया जा रहा है तो हमारे विभाग के विद्याíथयों के साथ सौतेला व्यवहार करना ठीक नहीं। चार घंटे के संघर्ष के बाद जब ये विद्यार्थी फाइनेंशियल अधिकारी से मिले तो आधे घंटे तक चली मीटिग के बाद उन्होंने इस समस्या का हल निकाल दिया। अब उन्हें पूरी फीस भरने की आवश्यकता नहीं है। बाकी विभागों की तरह उन्हें भी एनओसी जारी कर दी गई है। सभी विद्यार्थियों ने विश्वविद्यालय प्रशासन व इनसो के साथियों का धन्यवाद किया। इस मौके पर सिमरन गुराया, सचिन मिरोक, अमृत, सरबजीत, रितिक, निशांत, गुरदित, प्रीत कलेर, संदीप, रोहित, रवि, रोहन, मोनू, रिशु मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस