पंकज आत्रेय, कुरुक्षेत्र : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुरुक्षेत्र की धरती से विपक्षी दलों को कड़ा संदेश दिया। वे हरियाणा को अपनी कर्मस्थली तो मानते ही हैं, यहां के अपने दशकों के संबंधों को भी विजय संकल्प रैली के मंच से ताजा कर गए। अपने हरियाणा कनेक्शन को जाहिर करते हुए उन्होंने कांग्रेस के संकल्प पत्र-इबकै कांग्रेस की भी हवा निकाल दी। बोले, मैं हरियाणा में लंबे समय तक रहा हूं। यहां की हर गली से वाकिफ हूं।

कांग्रेस पर वार करते हुए उन्होंने कहा, पहले की सरकारों की नजर किसानों की वोट और जमीन पर रहती थी। सीएलयू में जमकर भ्रष्टाचार किया। हरियाणा में यह चलता था, लेकिन इब्ब ना चाल्लै। मोदी के पूरे भाषण में हरियाणवी का समावेश रहा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को कुरुक्षेत्र के थीम पार्क में उत्तर हरियाणा के पांच जिलों के 20 विधानसभा क्षेत्रों के प्रत्याशियों के पक्ष में आयोजित चुनावी रैली को संबोधित कर रहे थे।

मनोहर सरकार को पूरे नंबर देते हुए मोदी ने कहा, हरियाणा में सरकारी नौकरियों में खर्ची और पर्ची से मुक्ति दिलाने का काम भाजपा सरकार ने किया है। खर्ची और पर्ची से मैंने कई परिवारों को तबाह होते हुए देखा है। जिन लोगों को सरकार ने पारदर्शी तरीके से बिना रिश्वत के नौकरी दी है, वह हमेशा मनोहर लाल को आशीर्वाद देते रहेंगे। पिछली सरकारों में सीएलयू घोटालों पर प्रधानमंत्री ने कहा कि हरियाणा एक जमीन का टुकड़ा नहीं है। इस जमीन में लोगों का खून पसीना मिला है।

ट्रांसफर-पोस्टिंग उद्योग खत्म

प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल की पीठ थपथपाते हुए कहा कि उन्होंने हरियाणा में ट्रांसफर और पोस्टिंग इंडस्ट्री को खत्म करने का काम किया है। पहले कर्मचारियों के तबादले के रेट तय थे। भ्रष्ट नेता तो कमाते ही थे, भ्रष्ट अफसर भी मलाई खाते थे। तबादला उद्योग के दलाल अब सरकारी कार्यालयों के आसपास भी नहीं दिखते। ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में छाया हरियाणा

मोदी ने मनोहर सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि देश-विदेश में यहां के उद्यमी अपनी छाप छोड़ रहे हैं। ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में 14वें स्थान से उछलकर हरियाणा अब तीसरे स्थान पर आ गया है। हरियाणा के लोगों ने देश को दिखाया है कि जनभागीदारी कैसे सफल होती है। सरकार ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान की शुरुआत की तो हरियाणा ने सामाजिक परिवर्तन की ठान ली। हरियाणा पर गर्व है।

राम-राम भाण-भाइयो

अपने संबोधन की शुरुआत से ही प्रधानमंत्री ठेठ हरियाणवी मूड में रहे। जैसे ही वे बोलने के लिए आए, पंडाल मोदी-मोदी के नारों से गूंज उठा। उन्होंने हाथ जोड़कर कहा, हरियाणा के सारे चाच्चै-ताउआं नै अर सारे भाण-भाइयां नै राम-राम। बीच-बीच में उन्होंने हरियाणवी में बोलकर लोगों को खूब लुभाया। इससे पहले मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रधानमंत्री का स्वागत शंख देकर किया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप