जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय ने परीक्षाओं को सुचारू रूप से आयोजित करवाने के लिए पूरी तैयारियां कर ली हैं। एक से नौ सितंबर तक अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों की प्रेक्टिकल लिए जांएगे। इसके बाद 10 से 30 सितंबर तक सभी विषयों की परीक्षाएं करवाई जाएंगी।

कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय की कुलपति डा. नीता खन्ना ने बताया कि विद्यार्थियों की सुविधा के लिए पहली बार ऑनलाइन और ऑफलाइन मोड के मिश्रण से परीक्षाओं का आयोजन किया जाएगा। स्नातक और स्नातकोत्तर अंतिम वर्ष की परीक्षाएं आयोजित करने को लेकर अधिसूचना भी जारी की जा चुकी है। इसके बाद डेटशीट भी विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर उपलब्ध करवा दी गई है।

27 कालेजों में 1.20 लाख विद्यार्थी देंगे परीक्षा

उन्होंने कहा कि कुवि से करीब 278 कालेज संबद्ध हैं। इन कॉलेजों में लगभग 1.20 लाख छात्र परीक्षा देंगे। उन्होंने कहा कि दूर के जिलों और खासकर ग्रामीण क्षेत्रों के विद्यार्थी भी कोराना से सुरक्षित रहें, इसी को देखते हुए परीक्षाओं का खास मॉडल डिजाइन किया गया है।

सभी जिलों में बनाए परीक्षा केंद्र, 50 फीसद घटाया गया है सलेबस

उन्होंने बताया कि प्राइवेट परीक्षार्थियों के लिए उनके जिलों में ही परीक्षा केंद्र स्थापित कर दिए गए हैं। परीक्षा सुचारू रूप से करवाने के लिए प्रो. अनिल वोहरा की अध्यक्षता में उच्च स्तरीय कमेटी का गठन किया गया है। विद्यार्थियों के रोल नंबर विवि की वेबसाइट और संबंधित छात्रों के कालेज, संस्थान की साइट पर अपलोड किए जाएंगे। इतना ही नहीं परिस्थितियों को देखते हुए प्रश्नों की संख्या को 50 फीसद तक कम कर दिया गया है। इसे पूरा करने के लिए तीन घंटे का समय दिया गया है। इसके साथ ही संबंधित संस्थान के चेयरपर्सन, डायरेक्टर, प्रिसिपल को प्रश्न पत्र और ईमेल से उत्तर पुस्तिका डाउनलोड करने के लिए भी अलग से समय दिया जाएगा। खास बात यह है कि जिन छात्रों के पास डाउनलोड और स्कैन करने की सुविधा नहीं है। वह अपनी उत्तरपुस्तिका संबंधित कालेज में जमा करवा सकते हैं।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021