संवाद सहयोगी, पिपली :

वार्ड नंबर नौ की पार्षद सुदेश चौधरी ने कहा है कि नगर परिषद के अधिकारी मिट्टी और पुरानी सड़कों के मलबे को डालकर सड़कों पर बने गड्डों को भरने का काम कर रहे हैं।ठेकेदार व अधिकारी मिलीभगत कर लाखों रुपये के बजट की बंदरबांट करने में लगे हुए हैं। शहर की जनता सड़कों पर बने गड्ढों से परेशान है, लेकिन नप प्रशासन कुंभकर्णी नींद सोया हुआ है। प्रशासन को जगाने के लिए और शहर वासियों को समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए उन्होंने तकरीबन 50 शिकायतें हरपथ पर लगाई हुई हैं। जिनका कोई समाधान नहीं किया गया। मंगलवार को उन्होंने नप प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि वे लाखों रुपये के बजट को अधिकारियों की मिलीभगत से खुर्दबुर्द करने का काम कर रहे हैं। नप चेयरमैन अधिकारियों पर नियमानुसार कार्रवाई करे,, अन्यथा वे इन बेलगाम नप अधिकारियों की शिकायत मुख्यमंत्री से करेंगी। हरपथ पर दी गई शिकायतों का निराकरण करने के लिए सड़कों की मरम्मत और निर्माण के लिए गुणात्मक सामग्री डालने के आदेश दिए हुए हैं, लेकिन अधिकारी निर्देशों की अवहेलना करके अपनी मनमर्जी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि एचएसवीपी की सड़कें गड्ढों में तब्दील हो गई हैं। सड़कों पर चलना दुश्वार हो चुका है। रात के समय सेक्टरों में अंधेरा छाए रहने से चोरी की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं। उन्होंने कहा कि एक तरह से नप प्रशासन पंगु हो चुका है।

Posted By: Jagran