संवाद सूत्र, कुरुक्षेत्र : पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र पाल ¨सह ने बताया कि दोपहिया वाहन चलने वाले लोग अक्सर हेलमेट नहीं पहनते। हेलमेट पहनना महज यातायात नियमों की पालना करना नहीं है, बल्कि हेलमेट सुरक्षा की दृष्टी से भी महत्वपूर्ण है। आकंड़ों के अनुसार देश में सड़क दुर्घटनाओं में मृत्यु दर दूसरों देशों से ज्यादा है, जिसमें दोपहिया वाहन चालकों की संख्या ज्यादा होती है। अक्सर देखने में आता है कि सड़क दुर्घटनाओं में सबसे अधिक मृत्यु बिना हेलमेट पहने वाहन चालकों की है। पुलिस समय-समय पर वाहनों की जांच कर चालान काटने के साथ-साथ यातायात नियमों के प्रति आमजन को जागरूक करती है तथा विशेष अभियान चला कर स्कूलों व कॉलेजों में यातायात नियमों के प्रति बच्चों तथा अध्यापकों को भी जागरूक करती है।

पुलिस अधीक्षक नए बस अड्डे के समीप रेड लाइट पर रोटरी क्लब, श्री सनातन विद्यापीठ व हिमांशु भारद्वाज आइलाटस एंड गूगल क्लासिज के सहयोग से हेलमेट वितरण के दौरान बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि यातायात नियमों के प्रति बच्चों को जागरूक करने के लिए यातायात नियमों के बारे में पुलिस विभाग प्रतियोगिता भी कराता है। सुरेंद्र पाल ¨सह ने अभिभावकों से अपील की है कि वे नाबालिक बच्चों को बिना लाइसेंस के दोपहिया वाहन चलाने न दें और बच्चों को वाहन चलाते समय हेलमेट जरूर पहनाएं। उन्होंने आमजन से भी अपील की है कि यातायात नियमों की पालना करें तथा सड़क दुर्घटनाओं को कम करने में पुलिस का सहयोग करें। इस अवसर पर रोटरी क्लब के डिस्ट्रिक्ट गवर्नर जितेंद्र ढींगरा, रोटरी क्लब के प्रधान रणवीर विर्क, सचिव कुलदीप चोपड़ा, रोटेरियन एमसी गुप्ता, दीपक चोपड़ा, ललित चुटानी, नीतिन भनोट, विनय गर्ग, छवि बंसल, रूपेंद्र ¨सह ठाकुर, आंनद बजाज, विजय बजाज, अजय बजाज, संजीव छाबड़ा, अजय मदान, सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधि हिमांशु भारद्वाज, श्री सनातन विद्यापीठ के दीपक शर्मा, स¨लद्र पाराशर, मयंक शर्मा, राजपाल खानपुर, राममेहर शास्त्री, मख्खन शर्मा, पुलिस उपाधीक्षक तान्या ¨सह, पुलिस उपाधीक्षक यातायात जितेंद्र कुमार, थाना यातायात प्रभारी देवेंद्र कुमार सिपाही मनजीत पांचाल मौजूद रहे।

Posted By: Jagran