कुरुक्षेत्र, [अनुराग अग्रवाल]। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को कुरुक्षेत्र की धरती से दक्षिण और उत्‍तर हरियाणा सहित पूरे राज्‍य को स्‍वच्‍छता व सेहत का मंत्र देंगे। उत्तर हरियाणा से मिशन-2019 का आगाज करने जा रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रदेश को छह से अधिक बड़ी परियोजनाओं की सौगात देंगे। देश और प्रदेश की करीब 22 हजार महिला पंच-सरपंचों की मौजूदगी में पीएम मोदी रिमोट के जरिए सात परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण करेंगे।

प्रधानमंत्री आज करेंगे सात बड़े प्रोजेक्ट का शिलान्यास और लोकार्पण, पांच परियोजनाएं स्वास्थ्य से जुड़ी

चुनावी साल में शुरू हो रहे इन प्रोजेक्ट से न केवल हरियाणा, बल्कि पंजाब, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और दिल्ली के लोगों को सीधा फायदा होगा। खासकर स्वास्थ्य सुविधाओं के मामले में। प्रधानमंत्री धर्मनगरी से रिमोट का बटन दबाकर जिन सात बड़ी परियोजनाओं का शुभारंभ करेंगे उनमें पांच स्वास्थ्य से जुड़ी हैं।

कुरुक्षेत्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम में भाग लेने देशभर से आईं महिलाएं।

हरियाणवियों के साथ पंजाब, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और दिल्ली के लाखों लोगों को होगा फायदा

पंचकूला में आयुष में पीजी कोर्स, कुरुक्षेत्र में आयुष विश्वविद्यालय, झज्जर के बाढ़सा में राष्ट्रीय कैंसर इंस्टीट्यूट, रेवाड़ी में एम्स और करनाल में मेडिकल यूनिवर्सिटी से लाखों लोगों को सीधा फायदा होगा। इसके अलावा पानीपत में वॉर मेमोरियल से जहां शहीदों की ख्याति देश-दुनिया में गूंजेगी, वहीं करनाल से कैथल तक फोरलेन मार्ग से यातायात सुगम होगा।

पीएम मोदी देंगे ये बड़ी परियोजनाएं

झज्जर में राष्ट्रीय कैंसर इंस्टीट्यूट

बाढ़सा में बने देश के सबसे बड़े कैंसर अस्पताल नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट में इलाज की सेवाएं शुरू होने से हरियाणा, पंजाब, दिल्ली और राजस्थान सहित कई राज्यों के कैंसर मरीजों को भटकना नहीं पड़ेगा। करीब 2035 करोड़ रुपये से तैयार यह अस्पताल पब्लिक फंड से बना सबसे बड़ा हॉस्पिटल प्रोजेक्ट है।

दक्षिणी हरियाणा के रेवाड़ी में एम्स

हाल ही में पेश आम बजट में केंद्र सरकार ने रेवाड़ी के मनेठी में देश के 22वें अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) की घोषणा की थी। मनेठी की ग्राम पंचायत ने प्रोजेक्ट के लिए 200 एकड़ जमीन दी है। एम्स के बनने से प्रदेश के युवाओं को चिकित्सा में स्नातक और स्नातकोत्तर के नए अवसर मिलेंगे। एम्स से रेवाड़ी, महेंद्रगढ़, चरखी दादरी, भिवानी के साथ ही राजस्थान के झुंझनू और अलवर जिले के लोगों को सीधा फायदा होगा।

करनाल में मेडिकल यूनिवर्सिटी

करनाल के कुटेल में करीब सौ एकड़ में बनी पंडित दीनदयाल उपाध्याय राजकीय चिकित्‍सा विश्‍वविद्यालय  से चिकित्‍सा शिक्षा की गुणवत्‍ता सुधरेगी। यूनिवर्सिटी से कई मेडिकल कॉलेज, नर्सिंग कालेज, डेंटल कॉलेज संबद्ध किए जाएंगे। यूनिवर्सिटी में 200 सीटों का मेडिकल कॉलेज, 750 से 1000 बिस्तर का अस्पताल, डेंटल कॉलेज और केंद्र सरकार से समन्वय के साथ कुछ मेडिकल इंस्टीट्यूट बनाए जाएंगे।

पानीपत में वार मेमोरियल

काला अंब के पास बनने जा रहे वार मेमोरियल की घोषणा मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने वर्ष 2016 में की थी।  आठ से 20 एकड़ में बनने वाले स्मारक के लिए पिछले दिनों महाराष्ट्र सरकार ने तीन करोड़ रुपये देने की घोषणा की है। प्रदेश सरकार इस पर पांच करोड़ रुपये खर्च करेगी।

करनाल से कैथल फोरलेन मार्ग

करनाल के चिड़ाव मोड़ से लेकर कैथल तक करीब 60 किलोमीटर सड़क को फोरलेन करने से न केवल जाम से मुक्ति मिलेगी, बल्कि सफर में 30 से 45 मिनट का समय भी कम लगेगा। 163 करोड़ रुपये से सड़क के चौड़ीकरण के लिए करीब 12 हजार से अधिक पेड़ काटने पड़ेंगे। इस कारण फाइल केंद्रीय पर्यावरण मंत्रालय में अटक गई। अब केंद्र सरकार से प्रोजेक्ट को मंजूरी मिल गई है।

पंचकूला में आयुष कॉलेज

पंचकूला के माता मनसा देवी मंदिर परिसर में बनने वाले नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद, योग एंड नेचुरोपैथी के लिए श्राइन बोर्ड की करीब 20 एकड़ जमीन आयुष विभाग को दी गई है। कॉलेज के शिलान्यास के लिए पहले तीन बार मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मंजूरी ली गई, लेकिन एन वक्त पर कार्यक्रम टालना पड़ा। केंद्रीय आयुष विभाग इस प्रोजेक्ट पर करीब 500 करोड़ रुपये खर्च करेगा।

कुरुक्षेत्र में आयुष विश्‍वविद्यालय

कुरुक्षेत्र जिले के गांव फतुपुर में शुरू हो रही दुनिया की पहली आयुष विश्‍वविद्यालय में स्नातकोत्तर स्तर के पांच पाठ्यक्रम रखे गए हैं। करीब सौ एकड़ में बन रहे आयुष विश्वविद्यालय से आयुर्वेद को बढ़ावा मिलेगा और विद्यार्थी प्रदेश में ही एमडी कर सकेंगे। पीएम मोदी रिमोट से इस प्रोजेक्ट का लोकार्पण करेंगे।

----------

मील का पत्थर होंगे प्रोजेक्ट : मनोहर

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कुरुक्षेत्र की धरती से हरियाणा के विकास में मील का पत्थर साबित होने वाले सात बड़े प्रोजेक्ट का शिलान्यास और लोकार्पण करेंगे। इनमें तीन स्वास्थ्य संस्थानों की आधारशिला रखी जानी है, जबकि कैंसर संस्थान का लोकार्पण होगा। पीएम मोदी देश और प्रदेश की करीब 22 हजार महिला पंच-सरपंचों और स्वच्छता वर्करों से सीधे रू-ब-रू होकर उन्हें स्वच्छता की अहमियत और महिला अधिकारों से अवगत कराएंगे।

Posted By: Sunil Kumar Jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप