जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र :

जिले में बुधवार को कोरोना का कोई नया केस नहीं मिला। पिछले 10 दिन से कोरोना का नया केस सामने नहीं आया और मंगलवार को एक कोरोना पाजिटिव मरीज को छुट्टी मिलने के बाद जिला कोरोना से मुक्त भी हो गया। वहीं विधायक सुभाष सुधा ने कुरुक्षेत्र को कोरोना मुक्त बनाने में शहर के नागरिकों और स्वास्थ्य विभाग के प्रत्येक अधिकारी और कर्मचारी के योगदान की बात कही है। उन्होंने कहा कि मीडिया के योगदान को भी भुलाया नहीं जा सकता, जिन्होंने फील्ड में उतरकर हर खबर लोगों तक घर बैठे पहुंचाई।

जिला सिविल सर्जन डा. संत लाल वर्मा ने कहा कि जिले का रिकवरी रेट 98.39 है और सैंपल पाजिटिव रेट 4.32 पर पहुंच गया है। जिले में कोरोना एक्टिव केसों की संख्या शून्य है। जिले में अलग-अलग स्वास्थ्य केद्रों पर आरटीपीसीआर और रैपिड एंटीजन के कुल 1540 सैपल लिए है, जिनमें आरटीपीसीआर के 1450 व रैपिड एंटीजन के 90 सैंपल है। बुधवार को किसी भी व्यक्ति की कोविड रिपोर्ट पाजिटिव नहीं आई है। जिले में अब तक 22128 पाजिटिव केस सामने आ चुके हैं। इनमें से 21772 मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं। अब तक कोरोना पाजिटिव 356 मरीजों की मृत्यु हो चुकी है।

कोरोना मुक्त बनाने में विभाग का अहम योगदान : सुधा

विधायक सुभाष सुधा ने बुधवार को देर सायं सर्किट हाउस में पत्रकारों से बातचीत की। उन्होंने कहा कि यह एक सुखद समाचार है कि जिला कोरोना मुक्त हो चुका है। इसका पूरा श्रेय स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों, कर्मचारियों, मीडिया कर्मियों और आमजन को जाता है, जिन्होंने कोविड बिहेवियर की पालना की और कोरोना को हराने का काम किया। उन्होंने कहा कि बेशक कोरोना की जंग जीत ली है, लेकिन अभी भी सतर्क रहने की जरुरत है, सभी लोगों को कोविड-19 की गाइडलाइन की पालना करनी चाहिए और मास्क लगाकर घर से बाहर निकलना चाहिए। भीड़-भाड़ वाले क्षेत्रों में जाने से बचना चाहिए और शारीरिक दूरी के नियमों की पालना करनी चाहिए।

Edited By: Jagran