जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र :

सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए उपायुक्त मुकुल कुमार के आदेश के बाद भी एनएचएआइ (नेशनल हाइवे अथारिटी आफ इंडिया) और एचएसवीपी (हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण) अधिकारियों ने सड़कों का रोड सेफ्टी आडिट नहीं करवाया। जबकि पहले हुई बैठक के बाद लोक निर्माण विभाग, मार्केटिग बोर्ड और नगर परिषद व पालिकाओं की तरफ से रिपोर्ट सौंपी जा चुकी है। अब उपायुक्त ने एनएचएआइ और एचएसवीपी अधिकारियों से रिपोर्ट तलब की है। उपायुक्त ने अधिकारियों की बैठक भी ली।

उपायुक्त मुकुल कुमार ने कहा कि जिले में सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए सभी संबधित विभागों को समय-समय अपने विभाग से संबंधित सड़कों की सेफ्टी आडिट रिपोर्ट करवानी चाहिए। इसके साथ ही सभी विभाग सड़क दुर्घटनाओं से संबंधित संवेदनशील क्षेत्रों यानी ब्लैक स्पाट की पहचान करके रिपोर्ट सौंपना सुनिश्चित करेंगे। इन तमाम विषयों को सभी अधिकारी गंभीरता से लेकर काम करेंगे। इन विषयों पर कुछ विभागों ने अपनी रिपोर्ट सौंप दी है और कुछ विभागों की रिपोर्ट लंबित है। उन्होंने कहा कि जिले में अगस्त माह 2020 तक 37 सड़क दुर्घटनाएं हुई थीं। इनमें 18 लोगों की मृत्यु हुई थी। लेकिन वर्ष 2021 के अगस्त माह तक कुल 47 सड़क दुर्घटनाएं हुई हैं और 18 ही लोगों की मौत हुई है। इसलिए पुलिस और संबंधित महकमों के अधिकारियों को एक-एक जान को बचाने का प्रयास करना है। यह तभी संभव हो पाएगा जब सभी विभागीय अधिकारी गंभीरता के साथ सड़क सुरक्षा की नीति पर काम करेंगे। इस मौके पर एसडीएम नरेंद्र पाल मलिक, आरटीए सचिव उर्मिला श्योकंद, सुनील कुमार मौजूद थे।

महिला आइटीआइ संस्थान में आवेदन 30 तक

जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आइटीआइ) महिला कुरुक्षेत्र में दाखिला प्रक्रिया विभागीय वेबसाइट पर दाखिला प्रक्रिया चल रही है। इसके लिए आनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 30 सितंबर है।

महिला आइटीआइ के इंचार्ज देव किशन ने बताया कि संस्थान में छह व्यवसायों में दाखिले किए जाएंगे, जिनमें ड्राफ्ट्समैन सिविल, ड्राफ्ट्समैन मैकेनिकल, सिविग टेक्नोलाजी (सिलाई व कटाई) व्यवसाय, एसओटी इंब्रायडरी (कढ़ाई) व्यवसाय, कोपा (कंप्यूटर) व्यवसाय और कास्मेटोलाजी (हेयर व स्किन केयर) कोर्स शामिल है। विभिन्न दाखिलों में चरणों के लिए मेरिट एवं सीट अलाटमेंट जारी होने के पूर्ण कार्यक्रम बारे सूचना दाखिला वेबसाइट पर 25 सितंबर से उपलब्ध है। सभी विद्यार्थी दाखिला वेबसाइट का नियमित अवलोकन करते रहे। उन्होंने कहा कि प्रार्थी विद्यार्थियों को शैक्षणिक योग्यता, आरक्षण व स्थाई निवासी के मूल प्रमाण पत्रों की स्कैन प्रतियां दाखिला फार्म के साथ आवश्यकता अनुसार अपलोड करनी होंगी। दाखिले के लिए प्रार्थियों के पास निजी ई-मेल आइडी, निजी मोबाइल नंबर, परिवार पहचान पत्र, आधार कार्ड नंबर होना अनिवार्य है और ऐसे प्रार्थी ही आवेदन के पात्र होंगे।

Edited By: Jagran