जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र: थाना केयूके के अंतर्गत गांव कुंवारखेड़ी में एक विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है। विवाहिता के परिजनों का आरोप है कि ससुराल पक्ष के लोगों ने मिल कर उसका गला घोंट कर या फांसी पर लटका कर उसकी हत्या की है। पुलिस ने ससुराल पक्ष के लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

कैथल के गांव कौल निवासी रविद्र कुमार ने थाना केयूके में शिकायत दर्ज कराई कि उसकी बहन रीटा देवी की शादी वर्ष 2005 में गांव कुंवारखेड़ी निवासी संजीव कुमार के साथ हुई थी। शादी के कुछ समय बाद ही उसका जीजा व ससुराल पक्ष के लोग उसकी बहन के साथ मारपीट करने लग गए और दहेज के लिए परेशान करने लगे। तीन माह पहले पंचायती फैसला हुआ कि अब उसकी बहन के साथ मारपीट नहीं होगी। एक नवंबर को उसकी बहन ने रात आठ बजे फोन किया कि उसके ससुराल वाले उसे मिल कर जान से मार देंगे। सुबह चार बजे उसके मामा तेजपाल का फोन आया कि रीटा ने फांसी लगा ली है। जब वे गांव कुंवारखेड़ी पहुंचे तो रीटा मृत अवस्था में जमीन पर पड़ी थी। शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया कि रीटा को उसके पति संजीव कुमार व ससुराल पक्ष के लोगों ने मिलकर गला घोंट कर या फांसी पर लटका कर मारा है।

जांच अधिकारी सुभाष चंद ने बताया कि पुलिस ने रविद्र कुमार की शिकायत पर रीटा के पति, सास, देवर व देवरानी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है। मृतका का अंतिम संस्कार गांव कुंवार खेड़ी में हुआ है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप