जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : केयूके थाना पुलिस ने गांव अमीन के शराब ठेके के तीन सेल्समैन के साथ मारपीट करने के मुख्यारोपित को गिरफ्तार किया है। आरोपित गांव अमीन निवासी संजीव उर्फ दीपा को अदालत में पेश किया। अदालत ने उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। डीएसपी मुख्यालय सुभाष चंद्र ने बताया कि कैथल के गांव पबनावा निवासी रोशन लाल ने केयूके थाना पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि वह शराब ठेकेदार गांव अमीन निवासी प्रवीण कुमार के पास नौकरी करता है। उसके साथ रमेश चंद्र, नरसी व रामचंद्र भी नौकरी करते हैं। वह चारों अमीन ठेका के ऊपर कमरे में ही रहते हैं। 27 मई की रात को अमीन निवासी सुखदेव सिहं उर्फ सुखा, मनीष कुमार उर्फ माटु, बाबू राव, रवि व नरेंद्र उर्फ काका ठेके पर शराब की बोतल लेने आए। ठेका बंद होने की बात कहते ही आरोपितों ने उन पर गंडासी व बिडो से हमला कर दिया और बैग में रखे 9500 रुपये निकालकर ले गए। केयूके थाना पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच एएसआइ नरेश कुमार को सौंपी। आरोपित से वारदात में प्रयोग की गंडासी बरामद की।

नशीला पदार्थ रखने के आरोप में एक गिरफ्तार

जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : पुलिस के एंटी नारकोटिक सेल (एएनसी) ने नशीला पदार्थों के साथ एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। आरोपित गांव थाना निवासी जगनदीप सिंह उर्फ जग्गन के कब्जे से 110 ग्राम अफीम बरामद हुई है। आरोपित को अदालत में पेश किया। अदालत ने उसे पांच दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है।

डीएसपी मुख्यालय सुभाष चंद्र ने बताया कि एएनसी के एसआइ दर्शन सिंह, मुख्य सिपाही आजार सिंह, सिपाही सतीश कुमार, जितेंद्र कुमार व दिनेश कुमार की टीम पिहोवा क्षेत्र में गश्त कर रही थी। एसआइ दर्शन सिंह को गुप्त सूचना मिली कि गांव थाना निवासी जगनदीप सिंह उर्फ जग्गन अफीम बेचने के लिए अपने गांव की तरफ से गांव मांगना की तरफ आएगा। कुछ देर बाद पुलिस टीम ने एक व्यक्ति को आते हुए देखा। पुलिस टीम ने उसको रोककर पूछताछ की तो उसने अपना नाम गांव थाना के पुल प्लाट निवासी जगनदीप सिंह उर्फ जग्गन बताया। डीएसपी के समक्ष तलाशी लेने पर उसके कब्जे से 110 ग्राम अफीम बरामद हुई। एसआइ दर्शन सिंह ने बताया कि पुलिस आरोपित से पूछताछ में जुटी है कि वह नशीले पदार्थ कहां से खरीद कर लाया था।

Edited By: Jagran