जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : गुरु चरणों में अरदास और सतनाम वाहे गुरुनाम सिमरन के साथ धर्मनगरी के ऐतिहासिक गुरुद्वारा साहिब पातशाही नौवीं में लंगर और दीवान हाल का शिलान्यास किया। मक्खन शाह लंगर और दीवान हाल की कार सेवा शुरू करने के लिए बाबा सुबेग सिंह कार सेवा वाले, बाबा जगतार सिंह तरनतारन वाले, बाबा बचन सिंह दिल्ली के प्रतिनिधि बाबा गुलजार सिंह फतेहगढ़ साहिब, बाबा हरभजन सिंह पहलवान किला आनंदगढ़, बाबा अमरीक सिंह पटियाला, बाबा नरिदर सिंह लंगर साहिब (हुजूर साहिब), शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी श्री अमृतसर के अंतरिम कमेटी मेंबर जत्थेदार भूपेंद्र सिंह असंध, बाबा दर्शन सिंह, एसजीपीसी मेंबर जत्थेदार हरभजन सिंह मसाना, धर्म प्रचार कमेटी मेंबर जत्थेदार तजिद्रपाल सिंह लाडवा, अंतरराष्ट्रीय गुरबाणी कथावाचक ज्ञानी तेजपाल सिंह, सिख मिशन हरियाणा प्रभारी मंगप्रीत सिंह, एसजीपीसी सब ऑफिस प्रभारी परमजीत सिंह दुनिया माजरा, ऐतिहासिक गुरुद्वारा साहिब पातशाही छठी के मैनेजर अमरिदर सिंह धंतौड़ी सहित संगत ने गुरु चरणों में अरदास की। अरदास के उपरांत सभी संत-महापुरुषों और एसजीपीसी मेंबर साहिबान ने नींव खुदाई कार्य का शुभारंभ किया। इसके बाद संगत ने कार सेवा शुरु कर दी। इससे पहले यहां पहुंचने पर एसजीपीसी मेंबर साहिबान का ऐतिहासिक गुरुद्वारा साहिब प्रबंधन समिति की ओर से सिरोपा और स्मृति चिह्न भेंट कर अभिनंदन किया। एसजीपीसी मेंबर जत्थेदार भूपिदर सिंह असंध और जत्थेदार हरभजन सिंह मसाना ने बताया कि संगत की मांग को प्रमुख रखते हुए गुरुद्वारा साहिब पातशाही नौवीं में लंगर और दीवान का निर्माण कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि लंगर और दीवान का फायदा निश्चित रूप से संगत को होगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस