जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : कृष्णा गेट थाना पुलिस के अंतर्गत अलग-अलग स्थानों पर चोरों ने चोरी की वारदात को अंजाम दिया। चोर लाखों रुपये के जेवर व नकदी चोरी कर ले गए। पुलिस ने शिकायत के आधार पर दोनों मामले दर्ज कर लिए हैं। एक मामले में शिकायतकर्ता ने अपने ड्राइवर शक जताया है। पहला मामला :

ज्योति नगर निवासी मांगे राम ने कृष्णा गेट थाना पुलिस में शिकायत दर्ज कराई कि उसके पास गांव प्रतापगढ़ निवासी गोलू ड्राइवर की नौकरी करता है। चार जनवरी को वह नौकरी छोड़कर चला गया। ड्राइवर का घर में आना जाना लगा रहता था। 28 फरवरी से पांच मार्च तक वह लगातार घर पर आया और एक दिन गाड़ी लेकर नरवाना भी गया था। पांच मार्च को वे गुडगांव किसी कार्य से गए थे। उसकी पत्नी मकान के साथ खाली प्लाट में कपड़े धो रही थी। उस दिन ड्राइवर गोलू आया और यह कह कर चला गया कि अगले दिन आएगा, मगर वह दोबारा नहीं आया। 15 मार्च को उन्हें शादी में जाना था। जब उन्होंने अलमारी में जेवर देखे तो वे नहीं मिले। आलमारी से सोने के आभूषण की डिब्बी नहीं थी। डिब्बी में 17-18 तोले सोने के जेवर थे। अलमारी में 50 हजार रुपये व चांदी के आभूषण भी थे, मगर चोर सोने के आभूषण का डिब्बा ही ले गया। उन्हें शक है कि चोरी ड्राइवर गोलू ने की है। पुलिस ने शिकायत के आधार पर ड्राइवर गोलू पर चोरी के आरोप में केस दर्ज किया है। मामले की जांच एचसी नीतिन कुमार को सौंपी है। एचसी नीतिन कुमार ने बताया कि पुलिस आरोपित की तलाश कर रही है। दूसरा मामला :

आचार वाली गली निवासी विनोद कुमार ने कृष्णा गेट थाना पुलिस में शिकायत दर्ज कराई कि उसकी पिपली में कंफेक्शनरी की दुकान है। उसके बच्चे 27 मार्च को सायं वैष्णो देवी चले गए थे। उसकी माता रात को घर का ताला लगा कर पिपली स्थित मकान पर आ गई थी। 29 मार्च को वह रात को अपने घर पर आया तो उसके मुख्य द्वार का ताला टूटा हुआ था। जब वह अंदर गया तो अंदर भी ताले टूटे हुए थे। स्टोर में रखी आलमारी खुली हुई थी। आलमारी के अंदर से 35 हजार रुपये नकद, 40 ग्राम सोने के जेवर व 20 के चांदी के सिक्के गायब थे। पुलिस ने शिकायत के आधार पर केस दर्ज कर जांच मुख्य सिपाही सुरेंद्र कुमार को सौंपी है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप