फोटो संख्या : 20

संवाद सहयोगी, लाडवा : लाडवा के बाबैन चौक के नजदीक एक दुकान के सामने निर्माण को लेकर विवाद खड़ा हो गया। पूर्व नपा प्रधान ने इसे अवैध करार देते हुए प्रशासन को शिकायत कर दी। पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर निर्माण कार्य रुकवा दिया। लाडवा थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर प्रेम सिंह भी पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंच गए।

गौरतलब है कि करनाल-शाहाबाद वाया लाडवा मार्ग पर बाबैन चौक काफी व्यस्त चौक है। इस चौक पर दक्षिण की ओर कोने वाली दुकान को सड़क की ओर आगे बढ़ाने के लिए निर्माण कार्य शुरू किया गया था। जब इसकी जानकारी पूर्व नपा प्रधान मंदीप सिंह तूर व निवर्तमान नपा उप प्रधान अनिल माटा को मिली तो उक्त दोनों नेता मौके पर पहुंचे। इनका कहना है कि पीडब्ल्यूडी की जमीन पर सड़क के ऊपर ये अवैध निर्माण किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि अगर इसी तरह सड़कों पर अवैध निर्माण होते रहे तो चलने लायक सड़कें भी नहीं बचेगी। मंदीप सिंह तूर ने इन अवैध निर्माणों के पीछे स्थानीय प्रशासन के साथ-साथ सत्ता पक्ष पर भी आरोप लगाया। निर्माण की सूचना मिलने पर लाडवा एसडीएम को भी फोन पर सूचित किया गया। इसके साथ ही नपा कर्मचारियों को इस निर्माण कार्य की सूचना देते हुए इसे रुकवाने व अवैध निर्माण को तोड़ने बारे आग्रह किया गया, लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई। इसके बावजूद उन्होंने पीडब्ल्यूडी अधिकारियों से बात की तब जाकर निर्माण कार्य को रुकवाया गया। मंदीप तूर ने कहा कि यह पीडब्ल्यूडी की 60 फीट चौड़ी सड़क है अगर इसी तरह अवैध निर्माण होते रहे तो सड़क पर चौड़ाई कम होने से जाम की स्थिति बनी रहेगी। क्योंकि अन्य दुकानदार भी इस दुकानदार की देखा देखी अपनी-अपनी दुकानों के आगे अवैध निर्माण करना शुरू कर देंगे। उन्होंने कहा कि यदि स्थानीय प्रशासन ने इन अवैध निर्माण को नहीं हटवाया तो वह उच्च अधिकारियों से भी मिलेंगे, लेकिन शहर में अवैध निर्माण नहीं होने देंगे।

लाडवा पीडब्ल्यूडी एसडीओ ललित कुमार ने कहा कि जानकारी मिलने के बाद उन्होंने पुलिस टीम के साथ मिलकर मौके पर पहुंचकर निर्माण को रुकवा दिया है। सड़क की पैमाइश की जाएगी। अगर ये निर्माण पीडब्ल्यूडी के दायरे में हुआ तो अवैध निर्माण को हटवाया जाएगा।

Edited By: Jagran