जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : पंचकुला में सीआइडी में तैनात मुख्य सिपाही व उसके साथी पर हमला कर घायल करने के मामले में पीड़ित ने एसपी से न्याय की गुहार लगाई है। पुलिस ने इस मामले में मारपीट, कार को क्षतिग्रस्त करने व धमकी देने का मामला दर्ज किया था। जबकि आरोपितों ने उसकी हत्या का प्रयास किया था और उसके गले से सोने की चेन भी छीन ली थी। एसपी ने स्वजनों को आश्वासन दिया है कि मामले में सभी आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

मुख्य सिपाही जसबीर ने बताया कि आठ जनवरी को वह अपने साथी भारत वर्मा के साथ अपनी गाड़ी में किरमिच-हथीरा से होते हुए अपने गांव संगरौली कैथल जा रहा था। गांव किरमिच से जब वह निकले तो दो मोटरसाइकिलों पर सवार युवक उसकी गाड़ी के आगे हुड़दंग मचा रहे थे। आरोपितों ने उन्हें आगे नहीं निकलने दिया। गांव हथीरा में माता मंदिर के समीप उन्होंने मोटरसाइकिल सवार युवकों से रास्ता देने को कहा तो उन्होंने अपने साथी बुला लिय। आरोपितों ने उसके सिर पर वार किया, जिससे उसके सिर में छह टांकें आए हैं। वहीं आरोपितों ने उसकी टांग पर भी डंडे मारे, जिससे उसकी टांग की हड्डी टूट गई। उसकी टांग में प्लेट डली है। आरोपितों ने उसकी गाड़ी भी क्षतिग्रस्त कर दी थी। आरोपितों ने उसके साथी भारत वर्मा की सोने की चेन व 16 हजार रुपये भी छीन लिए थे। पुलिस ने भारत वर्मा की शिकायत पर मारपीट, कार को क्षतिग्रस्त करने व जान से मारने की धमकी देने का मामला दर्ज किया गया था। जबकि उस पर जानलेवा हमला हुआ था। जब पुलिस ने उसका बयान दर्ज किया तो वह पूरी तरह से ठीक नहीं था। बयान के आधार पर किया है मामला दर्ज : थाना प्रभारी

थाना केयूके प्रभारी सूरज चावला ने बताया कि पुलिस ने मुख्य सिपाही जसबीर के बयान के आधार पर ही मामला दर्ज किया था। इस मामले में दो आरोपितों को गिरफ्तार भी किया जा चुका है। अन्य की तलाश जारी है। चेन व पैसे छीनने की शिकायत बयान में नहीं कही गई थी। अगर ऐसा है तो चेन व पैसे छीनने की धारा जोड़ दी जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस