जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : अमीन रोड स्थित वात्सल्य वाटिका प्राथमिक पाठशाला में चंद्रशेखर आजाद और बाल गंगाधर तिलक की जयंती मनाई गई। संस्थापक स्वामी हरिओम दास ने दोनों महापुरुषों को पुष्प अर्पित कर जीवनी पर प्रकाश डाला और कहा कि इन दोनों महापुरुषों का हमारी आजादी में अहम भूमिका व योगदान है और सभी को बधाई दी। प्रिसिपल गौरव चौधरी ने चंद्रशेखर आजाद के शब्द यदि कोई युवा मातृभूमि की सेवा नहीं करता है, तो उसका जीवन व्यर्थ है और बाल गंगाधर तिलक के शब्द स्वराज मेरा जन्मसिद्ध अधिकार है कहें।

मातृभूमि के लिए प्राण न्यौछावर किया

फोटो-36

बाबैन : संजय गांधी ओमप्रकाश गर्ग मैमोरियल पब्लिक स्कूल सुजरा बाबैन के परिसर में लोकमान्य बालगंगाधर तिलक और चंद्र शेखर आजाद को उनकी जयंती पर याद किया गया। स्कूल प्रधान पवन गर्ग ने कहा कि महान क्रांतिकारी चंद्रशेखर आजाद और बाल गंगाधर तिलक बहादुरी, राष्ट्रभक्ति और बलिदान का पर्याय है। उनके हृदय में देश व मातृभूमि के लिए इतना प्रेम था कि उन्होंने बहुत छोटी उम्र से ही अंग्रेजों के विरुद्ध लोहा लेना शुरू किया और फिर अपना संपूर्ण जीवन देश की स्वतंत्रता के लिए समर्पित कर दिया।

बच्चों ने निकाली टीकाकरण जागरूकता रैली

फोटो- 37

बाबैन : भारत पब्लिक स्कूल में चंद्रशेखर आजाद और लोकमान्य बालगंगाधर तिलक की जयंती मनाई। इस दौरान स्कूल ने कोरोना महामारी से बचाव के लिए आमजन को टीकाकरण के लिए प्रेरित करने के उद्देश्य से एक रैली निकाली। रैली का शुभारंभ मुख्यातिथि थाना प्रभारी बाबैन जगबीर सिंह, डा. अभिनंदन जैन, स्कूल चेयरमैन ओमनाथ सैनी ने किया। प्रिसिपल सुनीता खन्ना ने कहा कि रैली के आयोजन का उद्देश्य लोगों में फैली भ्रांतियों को दूर करना है और रैली के माध्यम से हम जन-जन में टीकाकरण के लिए लोगों के मन में फैली अफवाहों को दूर करने का प्रयास करेंगे।

Edited By: Jagran