फोटो - 06 संवाद सहयोगी, शाहाबाद : आस्ट्रेलिया जेल में बंद विशाल जूड की रिहाई की मांग को लेकर अयन फाउंडेशन और भारतीय जनता युवा मोर्चा के पदाधिकारियों ने शनिवार को मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार कृष्ण बेदी को ज्ञापन सौंपा।

अयन फाउंडेशन के चेयरमैन कर्ण प्रताप सिंह ने कहा कि प्रदेश के प्रतिभावान छात्र विशाल जूड ने आस्ट्रेलिया में देश विरोधी ताकतों से डटकर लड़ाई लड़ी और तिरंगे का अपमान नहीं होने दिया। इसलिए देश विरोधी कुछ ताकतों ने विशाल जूड से मारपीट की और बाद में आस्ट्रेलिया सरकार से मिलकर झूठे केस में फंसाकर जेल भिजवा दिया। अयन फाउंडेशन इसे प्रदेश सरकार के माध्यम से विदेश मंत्रालय के समक्ष रखें और विशाल जूड को कानूनी मदद दिलाई जाए। कर्ण प्रताप सिंह ने कहा कि देश का राष्ट्रवादी युवा तिरंगे का अपमान कभी बर्दाश्त नहीं करेगा। मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार कृष्ण बेदी ने कहा कि राष्ट्रवादी लोगों के साथ किसी भी तरह का अन्याय नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने अयन फाउंडेशन व विशाल के पिता नाथी राम को विश्वास दिलाया कि इस मामले को मुख्यमंत्री मनोहर लाल के संज्ञान में डाल दिया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल के प्रयास से जल्द ही विशाल जूड को सही सलामत भारत लाया जाएगा।

भाजयुमो के जिलाध्यक्ष रुबल शर्म ने कहा कि कुछ नकारात्मक सोच के लोगों ने 26 जनवरी को लाल किले से तिरंगे को हटाया था और उसी घटना से क्षुब्ध आस्ट्रेलिया में राष्ट्रवादी लोगों ने तिरंगा यात्रा निकाली थी। राष्ट्र विरोधी सोच के युवाओं ने विशाल के साथ मारपीट की। इन सबके बीच विशाल जूड ने तिरंगे को लहराकर देशभक्ति का प्रमाण दिया। इस अवसर पर साहिल गुलियानी, राहुल तंवर लुखी, रवि दामली, अजय हबाना, गौतम राणा, दीपक कौशल, नवनीत शर्मा एडवोकेट व नीतिश शर्मा एडवोकेट मौजूद रहे।

Edited By: Jagran