भजनों से मंत्रमुग्ध हुए दर्शक

जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र : अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती में भजन संध्या में श्रीश्री रविशंकर की सामाजिक संस्था आर्ट ऑफ लिविग की ओर से आरती स्थल पर भजन संध्या का आयोजन किया। संस्था के सचिव धीरज गुलाटी ने बताया कि भजन संध्या में हिमाचल प्रदेश के गायक अक्षय शर्मा व सुशांत कश्यप ने अपने भजनों के माध्यम से भक्ति कि स्वर लहरियां ब्रह्मसरोवर के तट पर हुईं। गणेश वंदना से आरंभ कर अनेक कृष्ण भजन इन कलाकारों ने प्रस्तुत किए, जिन्हें सुन दर्शक मंत्रमुग्ध हो गए। मैं तो राधे कृष्ण बोलूं, राधेश्याम राधेश्याम जपो, हरी सुंदर नन्द मुकुंदा जैसे भजनों की स्वर लहरियां ब्रह्मसरोवर पर प्रवाहित होती रहीं। दर्शकों ने भी इनका तालियों के साथ-साथ दिया। संस्था के मीडिया समन्वयक अनिल भटनागर ने बताया कि इनके साथ बांसुरी पर दीपक शर्मा व तबले पर गुरचरण सिंह, ओक्टोपैड पर मंदीप शर्मा ने संगत की। गायन में इनका साथ आनंद व गौरव ने दिया। इस मौके पर आर्ट ऑफ लिविग के उपसचिव ललित माटा, पूर्व सचिव गौरव सिगला, प्रशिक्षक विनोद कुमार, डॉ. मधुदीप सिंह, संजय उपस्थित रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस