जागरण संवाददाता, करनाल : लघु सचिवालय के सभागार में मंगलवार को उपायुक्त निशांत कुमार यादव की अध्यक्षता में हुई जिला सड़क सुरक्षा समिति की मासिक बैठक में वाहन पार्किंग बनाने पर मंथन हुआ। सड़कों पर वाहन व चालकों की सुरक्षा सुनिश्चित बनाने पर जोर देने के साथ-साथ शहर में यातायात नियंत्रण के लिए किए जा रहे उपायों पर चर्चा की गई।

डीसी ने इस दौरान कहा कि शहर में यातायात नियंत्रण और पार्किंग की आवश्यकता एक संवेदनशील विषय रहा है। अब ट्रैफिक कंजेशन की समस्या हल करने के उपाय किए जा रहे हैं। इसके तहत शहर में तीन जगह वाहन पार्किंग बनाई जा रही है। इनमें पुरानी सब्जी मंडी क्षेत्र में जल्द ही पार्किंग पर काम शुरू होगा। इसी प्रकार नगर निगम के पुराने भवन स्थल पर पार्किंग के लिए टाइलें लगवाई जाएंगी, जबकि कुंजपुरा रोड स्थिल जरनैली कोठी पर पार्किंग बनाने के लिए जो प्रस्ताव बनाया गया था, वह फाइनल कर दिया गया है। करीब एक एकड़ की इस जगह पर भी जल्द पार्किंग व्यवस्था करने जा रहे हैं। इन उपायों से शहर का समूचा व मुख्य मार्केट एरिया नो पार्किंग जोन हो जाएगा।

डीसी ने बताया कि सफाई की तर्ज पर ई-रिक्शा चालकों के लिए अलग-अलग जोन बनाने का प्रयोग कर देखेंगे। इसमें जोन वाइज वाहन चालकों के लिए कलर कोडिग रखेंगे, इस बारे पहले इनकी यूनियन से बात करेंगे और फिर एक्सरसाइज होगी। इसी प्रकार वैंडिग जोन के लिए भी पथ विक्रेताओं को अलग-अलग एरिया देंगे, उनके लिए भी ड्रेस की कलर कोडिग और आई कार्ड जारी कर इसका भी प्रयोग करेंगे। उन्होंने कहा कि कुछ शहरों में ऐसे उपाय कामयाब हुए हैं।

गलत तरीके से पार्क होने वाले वाहन बने मुसीबत

डीसी ने बताया कि बाजार की सड़कों पर जो लोग गलत तरीके से वाहन पार्क कर यातायात को मुश्किल कर देते हैं। ऐसे वाहनो को टो-वैन से उठाने का टेंडर लगा दिया है। इस कार्य को जो कांट्रेक्टर करेगा, उसमें जुर्माना जैसे सभी चार्जि•ा शामिल होंगे। जुर्माना अदा करने के बाद उसकी रसीद और वाहन मिल सकेगा। डीसी ने शहर से गुजरते एनएच पर बने फ्लाइओवर के नीचे सुंदरता बढ़ाने की जानकारी देते बताया कि स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत झिलमिल ढाबे से लेकर नमस्ते चौक तक सभी फ्लाईओवर के नीचे सुंदर पेंटिग, बैठने के लिए बैंच व प्लांटेशन की जाएगी और इस कार्य का टेंडर लगाया जा चुका है। उन्होंने बताया कि 15 जनवरी तक शहर के भिन्न-भिन्न जंक्शन पर ट्रैफिक लाइट लगाने का प्रोजेक्ट पूरा करेंगे, जबकि डिस्पले बोर्ड लगाने का काम चल रहा है, जिन पर पब्लिक एड्रैस सिस्टम भी होगा। जिससे महत्वपूर्ण सूचनाओं की वीडियो भी दिखाई जा सकेंगी।

एजेंडे में शामिल बिदुओं पर मंथन

आरटीए कार्यालय के निरीक्षक जोगिद्र ढुल ने एजेंडे में शामिल किए गए नए-पुराने 30 बिदुओं को एक-एक करके प्रस्तुत किया। इनमें सड़क सुरक्षा से संबंधित बीती 13 जनवरी व 28 अगस्त के मात्र 1-1 ही बिन्दु थे, जिनमें संबंधित विभाग द्वारा काम पूरा कर लेने की रिपोर्ट दी गई थी। बीती 12 अक्टूबर के 5 बिन्दु थे, जिनमें 2 पैंडिग रहे और 3 काम हो जाने के बाद ड्राप कर दिए। 10 नए मामलों पर चर्चा की गई। डीसी ने असंध के एसडीएम साहिल गुप्ता को निर्देश दिए कि अस्थाई सब्जी मंडी शिफ्ट करवाएं। इस मौके पर आरटीए सचिव वीना हुड्डा, करनाल व इंद्री के एसडीएम आयुष सिन्हा, घरौंडा की एसडीएम डा. पूजा भारती तथा गैर-सरकारी सदस्यों में रमन मिड्डा, जेआर कालड़ा, एलआर चौधरी तथा प्रमोद गुप्ता उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran