जागरण संवाददाता, करनाल : तालमेल कमेटी हरियाणा राज्य परिवहन से जुड़े कर्मचारियों ने प्रदर्शन कर टिकट घोटाले का विरोध किया। घोटाले में शामिल अधिकारियों के खिलाफ नारे लगाए और सरकार से मांग की गई कि सीएस धनपत राय को इस पद से मुक्त किया जाए। कर्मचारी नेताओं ने कहा कि सीएस की प्राइवेट बस समिति वालों से मिलीभगत है। बार-बार प्राइवेट बस संचालकों को लाभ पहुंचाने का काम किया जाता है। गेट मीटिग में पूरे प्रदेश से कई चालकों व अन्य कर्मचारियों को हटाने के फैसले का विरोध किया गया।

राज्य वरिष्ठ उपप्रधान सुरेश लाठर ने कहा कि आउटसोर्सिग पर लगे चालकों को तीन-तीन साल हो चुके हैं, फिर भी उनको नौकरी से हटा दिया गया है। सुखविद्र सिंह ने कहा कि कर्मचारियों के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा। अपने हक के लिए वह बड़ा आंदोलन करने से भी गुरेज नहीं करेंगे।

कर्मचारी बोले- डिपो में हुआ करोड़ों का घोटाला

कर्मचारी नेताओं ने कहा कि करनाल डिपो में हड़ताल के दौरान करोड़ों रुपये का घोटाला हुआ है। करनाल डिपो में अवैध रूप से टिकट छपवाई गई। 57 लाख की टिकटें बिकी हुई दिखाई थी। अब 40 लाख की टिकटें बिकी हुई दिखा रहे हैं। हड़ताल में जब 50- 60 कंडक्टर ड्यूटी पर थे, उन्होंने उन्हें सरकारी टिकट देकर रूट पर क्यों नहीं चलाया। प्राइवेट टिकटें क्यों छपवाई, जबकि किसी अधिकारी ने इसकी अनुमति नहीं दी थी। यह बहुत बड़ा घोटाला है।

इस अवसर पर कृपाल सिंह लाडी, कालाराम, दीपू प्रधान, जगपाल शर्मा, डिपो प्रधान राकेश, अशोक मदान, सुरेश लाठर, सुरेश कैशियर व अंजेश मौजूद रहे।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप