डीईओ और बीईओ ने सक्षम परीक्षा के लिए की सीआरसी की बैठक जागरण संवाददाता, करनाल

सक्षम हरियाणा योजाना के तहत जिले के शेष चार खंड भी इस बार की परीक्षा में सक्षम होने चाहिए। इसके लिए तैयारी शुरू हो गई है। परीक्षा 18 फरवरी को है। इस बार की परीक्षा को सक्षम मेगा टेस्ट का नाम दिया है। जो भी खंड अब तक सक्षम नहीं हो पाए, उन सभी खंडों को इस परीक्षा में शामिल किया जाएगा। इसमें जिले के नि¨सग, इंद्री, असंध और घरौंडा खंड हिस्सा लेंगे। जबकि करनाल और नीलोखेड़ी खंड पहले ही सक्षम हो चुका है। इस सत्र में इन्हें सक्षम करने के लिए विभाग के पास केवल एक ही माह बचा है। रेलवे रोड स्थित गवर्नमेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल में सभी सीआरसी की बैठक हुई। सोमवार को हुई बैठक की अध्यक्षता जिला शिक्षा अधिकारी ईश्वर ¨सह मान और जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी राजपाल ने की। बैठक में उप जिला शिक्षा अधिकारी सपना जैन, बीईओ असंध महेंद्र ¨सह, बीईओ घरौंडा महावीर ¨सह, बीईओ नीलोखेड़ी धर्मपाल और बीईओ नि¨सग राजीव भूटानी मौजूद रहे। आंदोलन की तरह काम करेंगे तभी परीक्षा में होंगे पास : डीईओ

दो सत्रों में हुई बैठक में अधिकारियों ने सभी सीआरसी को अपने कलस्टर के स्कूलों की वास्तविक स्थिति का जायजा लेने के निर्देश दिए। जिसमें लो परफॉर्मेस वाले स्कूलों को चिह्नित किया जाएगा। सभी सीआरसी अपने कलस्टर के स्कूल मुखिया आज बैठक कर परीक्षा में पास होने के लिए प्ला¨नग लेंगे। डीईओ ईश्वर ¨सह मान ने कहा कि इसे एक आंदोलन की तरह लेकर चलना है। तभी हमारे सभी खंड सक्षम होंगे। नीलोखेड़ी बीईओ को दी नि¨सग खंड की भी जिम्मेदारी

अभी जिले के दो खंड करनाल और नीलोखेड़ी परीक्षा में पास होकर सक्षम बने हैं, लेकिन अन्य चार खंडों का सक्षम होना शेष है। बैठक में नीलोखेड़ी खंड के बीईओ धर्मपाल को खंड नि¨सग को सक्षम परीक्षा में पास कराने के लिए अतिरिक्त जिम्मेदारी दी है। यह जिम्मेदारी उनके खंड के सक्षम होने की उपलब्धि पर मिली है। अब दोनों खंड शिक्षा अधिकारी मिलकर नि¨सग को सक्षम बनाने के लिए मेहनत करेंगे। डाइट की टीम करेगी स्पेशल मॉनिट¨रग

परीक्षा के लिए तैयारी की मॉनिट¨रग की जिम्मेदारी डाइट के अधिकारियों को दी गई। इसको लेकर डाइट की टीम आज से सभी खंडों के स्कूल में विजिट करेगी। और स्कूल का डाटा भी कलेक्ट करेगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप