मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, करनाल : करनाल लोकसभा सीट से दिग्गज भाजपा नेत्री सुषमा स्वराज भले ही तीन चुनाव हार गई थीं, लेकिन नीलोखेड़ी हलका उनके लिए खास रहा। इस हलके से उन्हें जीत मिलती थी। यहां के लोगों से भी उनके नजदीकी संबंध बन गए थे। एक बार यहां से खास समर्थकों को विशेष तौर पर भोपाल भी बुलाया था। इसके अलावा भी जब भी वह अंबाला या आसपास के क्षेत्र में होती थी तो अपने समर्थकों को मिलने के लिए बुला लिया करती थी।

यह याद करते हुए तरावड़ी निवासी वरिष्ठ भाजपा नेता अमर सिंह ने बताया कि तरावड़ी व नीलोखेड़ी क्षेत्र से सुषमा स्वराज का खास लगाव था। यहां के मतदाता उन्हें पसंद करते थे। वह भी उन्हें पसंद करती थी। वह उनके परिवार से मिलने के लिए तरावड़ी भी आई थी। वह बेहद मिलनसार थी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप