संवाद सहयोगी, घरौंडा : शहर की स्वामी भीष्म लाइब्रेरी में पुस्तकालय विज्ञान के जनक पद्मश्री डा. एसआर रंगनाथन की 48वीं पुण्यतिथि मनाई गई। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विभाग प्रचार प्रमुख ऋषिपाल नंदवाल ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। मुख्यातिथि ने रंगनाथन के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उनको नमन किया। नंदवाल ने कहा कि अच्छा साहित्य समाज का दर्पण होता है। साहित्य हमें पुस्तकालय में सहज रूप से प्राप्त होता है इसलिए हमें पुस्तकालय में बैठ कर अच्छे साहित्य का अध्ययन करना चाहिए।

बुधवार को भीष्म लाइब्रेरी में आयोजित कार्यक्रम में हरियाणा लाइब्रेरी एसोसिएशन के जिला को-आर्डिनेटर संदीप लोहट ने कहा कि रंगनाथन ने अपना पूरा जीवन पुस्तकालय विज्ञान को समर्पित कर दिया। इस मौके पर एडवोकेट नीरज दयाल, निरीक्षक राहुल कुमार, मोटीवेटर रेणु भूषण, रणबीर सिंह, दीपक कुमार, काला राम, पूर्ण सिंह मौजूद रहे।

Edited By: Jagran