जागरण संवाददाता, करनाल : उपायुक्त व नगर निगम आयुक्त निशांत कुमार यादव ने पिगली गांव में नगर निगम की ओर से विकसित किए गए डेयरी स्थल पर प्लॉट आवेदन को लेकर डेयरी संचालकों को एक और अवसर प्रदान किया गया। ऐसे डेयरी मालिक चाहे वह सर्वे में शामिल हो या नहीं, उन्हें एक ओर अवसर प्रदान करते हुए आदेश दिए हैं कि अपने दस्तावेज पूर्ण करके 30 हजार रुपये की अग्रिम राशि, एक हजार रुपये की जुर्माना राशि तथा एक 100 रुपये की प्रार्थना पत्र फीस सहित कुल 31 हजार 100 रुपये 5 अगस्त तक नगर निगम कार्यालय में जमा करवाकर आगामी होने वाले ड्रा ऑफ लॉट के माध्यम से निकाले जाने वाले प्लॉटों की अलॉटमेंट में हिस्सा लें। उन्होंने कहा कि यदि अब भी इन डेयरी मालिकों द्वारा प्लॉट की अलॉटमेंट में कोई रूचि नहीं दिखाई गई तो उनकी डेयरियों को बिना आगामी किसी नोटिस या सूचना के सील करके पशु कब्जे में करने की कार्रवाई शीघ्र अमल में लाई जाएगी।

इसके अतिरिक्त ऐसे डेयरी मालिक, जिन्हें प्लॉट की अलॉटमेंट हो चुकी है, लेकिन उन द्वारा अभी तक 20 प्रतिशत राशि नगर निगम कार्यालय में जमा नहीं करवाई गई है उन्हें भी एक और अवसर दिया जाता है कि वह 5 अगस्त तक अलॉट किए गए प्लॉट की 20 प्रतिशत राशि जमा करवाएं, अन्यथा उन द्वारा जमा करवाई गई 30 हजार रुपये की अग्रिम राशि को जब्त करके प्लॉट की अलॉटमेंट रद्द कर दी जाएगी तथा उनकी डेयरियों को सील करने की आगामी कार्रवाई आरम्भ कर दी जाएगी।

Edited By: Jagran